Actress Neha Dhupia on Her Pregnancy

दि राइजिंग न्‍यूज

विकास वाजपेयी

लखनऊ

 

उत्‍तर प्रदेश राज्‍य सडक परिवहन निगम द्वारा अनुबंधित बसों को किए गए सौ करोड़ रुपये के भुगतान का आडिट शुरु हो गया है। नियम विपरीत कम सीट वाली बसों को ज्यादा दर पर भुगतान करने का घोटाला सामने आने के बाद रोडवेज प्रबंधन ने रुख सख्त कर लिया है। आडिट रिपोर्ट दो दिन में तलब की गई है और प्रथमदृष्टया इसमें कई क्षेत्रीय प्रबंधकों व सहायक क्षेत्रीय प्रबंधकों का फंसना तय माना जा रहा है। रोडवेज प्रशासन ने घपले में शामिल अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के संकेत दिए हैं। उल्लेखनीय है कि परिवहन निगम में करीब 2700 अनुबंध पर संचालित की जा रही हैं।

 

दरअसल रोडवेज में संचालित अनुबंधित बसों में निर्धारित से ज्‍यादा सीटे दिखाकर पिछले कई साल से भुगतान किया जा रहा था। यह मामला सामने आने के बाद परिवहन निगम प्रबंधन ने कडा रूख अपनाया है। प्रबंधन  ने अनुबंधित बसों को किए गए करीब सौ करोड़ रुपये के भुगतान का आडिट करने के आदेश जारी कर दिए हैं। इस संबंध में  सभी सभी क्षेत्रीय प्रबंधकों से रिपोर्ट मांगी गयी है कि किस आधार पर बसों को भुगतान किया गया। क्षेत्रों से मिलने वाली इस रिपोर्ट का आडिट कराया जाएगा। उसके बाद ज्यादा भुगतान करने वाले अधिकारियों पर कार्रवाई की जाएगी।

बस मालिकों से भी होगी वसूली  

रोडवेज अधिकारियों ने बताया कि जिन बसों को ज्यादा भुगतान किए जाने के मामले सामने आएंगे, उनके स्वामियों से वसूली की जाएगी। दरअसल इस पूरे खेल में अधिकारियों के साथ बस मालिकों को भी फायदा पा रहे थे। अब रोडवेज प्रशासन ने दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई के साथ बस मालिकों से वसूली के भी संकेत दिए हैं। खास बात यह है कि ज्यादा भुगतान लेने बस संचालक से गलत भुगतान की रिकवरी की जाएगी। बस संचालक आना कानी करेंगे तो उनकी कुर्की कराई जाएगी।

दो दिन में आएगी रिपोर्ट

रोडवेज मुख्य महाप्रबंधक एचएस गाबा ने बताया कि सभी क्षेत्रों से दो दिन में रिपोर्ट तलब की गई है। रिपोर्ट देने में आनाकानी करने या फिर सही जानकारी न देने वाले अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जएगी। इस संबंध में गलत भुगतान करने वाले अधिकारियों को रिकावरी कराने के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। यह रिर्पोट प्रबंध निदेशक को सौंपी जायेगी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement