Rani Mukerji to Hoist the National flag at Melbourne Film Festival

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

राजधानी की सड़कों पर जानलेवा वाहन फर्राटा भर रहे हैं। कभी स्‍कूल वैन सड़क हादसे का शिकार होती है तो कभी परिवहन विभाग की बस। साथ ही साथ सड़कों पर सवारी ढ़ो रहे ट्रैक्‍टरों की भी संख्‍या काफी है। इनपर लगाम ना लग पाने के कारण ही आए दिन सड़क हादसे में लोग अपनी जान गवां रहे हैं। बीते दिनों पारा में हुए दर्दनाक हादसे के बाद भी परिवहन विभाग और ट्रैफिक पुलिस ऐसे वाहनों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर पाई है। मामले की गंभीरता को देखते हुए जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने कठोर कार्रवाई करने को कहा है। उन्‍होंने बताया कि जल्‍द ही एक बैठक करके परिवहन और ट्रैफिक विभाग के अधिकारियों को कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिए जाएंगे। जिससे आने वाली घटनाओं पर रोंक लग सके। 

 

शहर के हसनगंज, पीजीआई, इटौंजा, मोहनलालगंज, बंथरा,मडि़यांव सहित तमाम क्षेत्रों में स्‍कूली वाहन सड़क हादसे का शिकार हुए हैं। इनमें किसी बच्‍चे की मौत हुई तो कोई अस्‍पताल पहुंच गया। इसी तरह ट्रैक्‍टर भले ही कृषि कार्य के लिए हो लेकिन सड़कों पर यात्रियों को लाने ले जाने में यह भी कोई कसर नहीं छोड़ते हैं। सड़कों पर तेज रफ्तार से भागते ट्रैक्‍टरों के कारण ही लोगा इनकी चपेट में आ जाते हैं। कई बार देखा गया है कि ट्रै‍क्‍टर खुद ही अनियंत्रित होकर हादसे का शिकार हो जाते हैं। पारा दुर्घटना भी कुछ ऐसी ही थी। इस हादसे में चार लोगों ने मौके पर ही अपनी जान गवां दी जबकि 23 लोग घायल भी हो गए थे।

 

सवाल यह है कि अप्रशिक्षित चालकों के भरोसे कब तक मासूम बच्‍चों और लोगों की जिंदगी से खेला जाएगा। जब कभी ट्रैफिक पुलिस या परिवहन विभाग अपना अभियान चलाता है तो उसका सारा जोर सीटबेल्‍ट और हेलमेट पर ही रहता है। भले ही सामने से डीजल टेंपों निकल जाए या फिर फर्जी स्‍कूल वैन। कई बार तो गैर जनपदों के वाहनों को पकड़ने के चक्‍कर में धुआं निकालते वाहन भी सामने से गुजर जाते हैं। हालांकि मामले पर जानकारी करने पर यही पुलिस वाले बगलें झांकने लगते हैं।

 

“ट्रैक्‍टर वाहनों के खिलाफ कार्रवाई करने में बहुत सारी व्‍यावहारिक दिक्‍कतें आती हैं इसलिए इनके खिलाफ कोई ठोस एक्‍शन नहीं हो पता है। हालांकि अन्‍य वाहनों के खिलाफ जल्‍द ही एक बैठक की जाएगी। जिसमें परिवहन और यातायात विभाग से फर्जी स्‍कूली वैन, डीजल ऑटो सहित ऐसे सभी वाहनों के खिलाफ कार्रवाई के लिए निर्देशित किया जाएगा।”

कौशल राज शर्मा

जिलाधिकारी

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll