Box Office Collection of Raazi

दि राइजिंग न्‍यूज

आशीष सिंह

लखनऊ।

 

कानून व्‍यवस्‍था के नियंत्रण में लगातार पिटने वाली यूपी पुलिस अब एक्‍शन मोड में है। करीब एक दशक बाद पुलिस न सिर्फ अपराधियों को पकड़ रही है बल्कि उनसे मुठभेड़ भी कर रही है। लगातार हो रहीं मुठभेड़ें भी इसकी गवाह बन रहीं हैं। बीते 10 दिनों में ही पुलिस ने नौ एनकाउंटर में तीन अपराधियों को मार गिराया जबकि 5-6 लोग घायल होकर पुलिस के शिकंजे में हैं। पुलिस के ये बदली कार्यप्रणाली प्रदेश सरकार की कानून-व्‍यवस्‍था के प्रति सख्‍ती का आइना बन रही है।

 

 

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की चेतावनी के बावजूद भी ताबड़तोड़ अपराधों ने सरकार की साख पर ही सवाल खड़े कर दिए थे। मुख्‍यमंत्री भी अपराधों को लेकर गंभीर दिखाई दे रहे थे लेकिन पुलिस अपने हाथ बंधे होने की ही दलील दे रही थी। नतीजा यह था कि अपराधी बे-खौफ थे और आम आदमी परेशान।

अब पुलिस का यह एक्‍शन मोड सरकार ही नहीं लोगों को भी भा रहा है। यही कारण है कि मुठभेड़ के बाद पुलिस अधिकारियों के हौसले बुलंद दिखने लगे हैं।

 

 

बीते दिनों हुईं मुठभेड़ें-

  • 5 अगस्‍त को इटावा के भरथना में पुलिस ने मुठभेड़ के बाद 12 हजार रुपये के इनामी आलोक उर्फ अमित यादव को घायल करते हुए गिरफ्तार किया।
  • 4 अगस्‍त को आगरा में देर रात तीन बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ हो गई। फायरिंग के दौरान एक गोली  एक बदमाश के पैर में लगी। हालांकि अन्‍य दो अपराधी फरार हो गए।
  • 3 अगस्‍त को आजमगढ़ के तरवा थाना क्षेत्र में अपरा‍ध को पेशा बना चुके जय सिंह यादव को मुठभेड में मार गिराया गया। उस पर 18 मुकदमे थे और 15 हजार का इनाम भी घोषित था।
  • 1 अगस्‍त को बागपत में दोहरे हत्‍याकांड के आरोपी आदेश मवी को पुलिस ने एनकाउंटर करते हुए पैर में गोली मारी। हालांकि अन्‍य आरोपियों को तलाशा की जा रही है।
  • 1 अगस्‍त को सहारनपुर में भी 12 हजार के इनामी बदमाश सगीर को गिरफ्तार करने के‍ लिए पुलिस ने जाल बिछाया तो उसने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी मुठभेड़ में पुलिस ने सगीर को घायल करते हुए गिरफ्तार कर लिया।
  • 28 जुलाई शामिली कैराना में 17 अपराधों में शामिल नौशाद उर्फ डैनी को पुलिस ने मार गिराया। उसके ऊपर 60 हजार रुपये का इनाम था। इसमें 10 हजार रुपये हरियाणा सरकार ने रखा था।
  • 28 जुलाई को सरवर को भी शामिली पुलिस ने ठोंक दिया। इस पर भी 12 हजार रुपये का इनाम था और नौ मामले दर्ज थे।
  • 26 जुलाई को मुजफ्फरनगर में पांच हजार रुपये के इनामी बदमाश रवि को एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उसे घायल अवस्‍था में भर्ती कराया है।
  • 26 जुलाई को आगरा में भीषण मुठभेड़ के बाद झांसी के व्‍यवसायी को मुक्‍त कराने में सफलता मिली। एक बदमाश भी गिरफ्तार हुआ।

 

“सरकार और पुलिस अपराधों को लेकर न केवल गंभीर है बल्कि अपराधियों पर सख्‍ती कर रही है। ऐसा नही है कि एनकाउंटर जानबूझ कर हो रहे हैं बल्कि अपराधियों को उन्‍हीं की भाषा में जवाब दिया जा रहा है।”

आनंद कुमार

एडीजी, कानून-व्‍यवस्‍था

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll