Home Rising At 8am Latest And Trending Updates Over Kartik Mela In Lucknow City

दिल्लीः स्कूल वैन-दूध टैंकर की टक्कर, दर्जन से ज्यादा बच्चे घायल, 4 गंभीर

पंजाबः गियासपुर में गैस सिलेंडर फटा, 24 घायल

कुशीनगर हादसाः पीएम मोदी ने घटना पर दुख जताया

बंगाल पंचायत चुनाव में हिंसाः बीजेपी करेगी 12.30 बजे प्रेस कांफ्रेंस

कुशीनगर हादसे में जांच के आदेश दिए हैं- पीयूष गोयल, रेल मंत्री

एक परंपरा का अंत            

| Last Updated : 2017-11-05 09:55:25

 

  • बिखर गया कार्तिक मेला

Latest and Trending Updates over Kartik Mela in Lucknow City


दि राइजिंग न्‍यूज

आशीष सिंह

लखनऊ।

 

नवाबों के समय से आयोजित होने वाला राजधानी का कार्तिक मेला इस बार नहीं लगा। आयोजक इस मेले के लिए कोई दूसरा वैकल्पिक स्‍थान नहीं सुझा पाए तो प्रशासन ने मेडिकल कॉलेज आने वाले मरीजों और यातायात की दिक्‍कतों को देखते हुए इसकी अनुमति नहीं दी। नतीजा यह हुआ कि कई दशकों पुरानी यह परंपरा इस बार   बिखर गई। हालांकि दुकानदारों ने शनिवार को जिलाधिकारी आवास के बाहर प्रदर्शन करते हुए नवीबुल्‍लाह मार्ग पर ही मेला लगाने का दबाव तो बनाया लेकिन एडीएम पश्चिम संतोष कुमार वैश्‍य ने वहां पर अनुमति देने से साफ इनकार कर दिया। उल्‍लेखनीय है कि इसके पहले जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने भी यहां पर मेला ना लगने की बात कही थी।

डालीगंज स्थित नवीबुल्‍लाह मार्ग पर बीते वर्षों की तरह इस बार भी आयोजकों ने मेला लगवाने की ठानी थी। हालांकि जिला प्रशासन ने दूसरी जगह खोजने को कहा तो आयोजक दोबारा लौट कर ही नहीं आए। क्‍योंकि उनकी मंशा थी कि मेला सड़क पर ही लगे जबकि अधिकारियों ने मेले के लिए मनकामेश्‍वर घाट, रस्तोगी इंटर कॉलेज, या किसी अन्‍य ऐसे स्‍थल का चुनाव करने को कहा था जिससे यातायात और चिकित्‍सकीय व्‍यवस्‍था प्रभावित ना हो। लेकिन आयोजकों की सड़क पर ही मेला लगाने की जिद ने मेला परंपरा का अंत कर दिया।

आयोजकों बिना अनुमति लिए गैर जनपदों के दुकानदारों को भी बुला लिया। जब वह यहां पर अपनी दुकान लगाने लगे तो वजीरगंज थाना प्रभारी पंकज सिंह ने उन्‍हें ऐसा करने से रोक दिया। दुकान ना लग पाने पर आयोजकों ने  दुकानदारों को एडीएम पश्चिम संतोष कुमार वैश्‍य के पास भेजा। हालांकि उन्‍होंने साफ शब्‍दों में वहां पर मेला लगने से इनकार कर दिया। यहां से लौटने के बाद शुक्रवार की देर रात पांच ट्रकों से भरा सामान नवीबुल्‍ला मार्ग पर पहुंच गया। इसकी जानकारी जैसे ही एडीएम को हुई वह एसीएम संतोष सिंह के साथ मौके पर पहुंचे और पुलिस बल के साथ सभी को भगा दिया। इसके बाद शनिवार को जिलाधिकारी आवास के बाहर दुकानदारों ने प्रदर्शन करना शुरू किया तो सिटी मजिस्‍ट्रेट वि‍वेक श्रीवास्‍तव और एसीएम गौरव रंजन श्रीवास्‍तव ने उन्‍हें खदेड़ दिया। 

“मेले आयोजक नवीबुल्‍ला मार्ग पर ही मेला लगाने की जिद किए थे। जबकि मनकामेश्‍वर घाट और अन्‍य जगहों पर भी मेला लगाने के लिए जगह खोजने की बात कही गई थी। लेकिन आयोजकों ने ना तो कोई जगह बताई और ना ही कोई प्रयास किया। डीएम आवास के बाहर कुछ दुकानदारों ने प्रदर्शन भी किया था उन्‍हें स्‍पष्‍ट कह दिया गया कि सड़क में मेला नहीं लगेगा।”

संतोष कुमार वैश्‍य

एडीएम पश्चिम



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...







खबरें आपके काम की