Crowd Rucuks At Sapna Chaudhary Program in Begusaray of Bihar

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

चीन एक बार फिर भारत की चिंता बढ़ाने वाला है। वो भारत के पड़ोसी देशों पर अपनी पकड़ मजबूत करता जा रहा है। इसी कड़ी में चीन अब बंगाल की खाड़ी के साथ-साथ म्यांमार के क्यौकप्यू शहर में एक अरब डॉलर की लागत से समुद्री बंदरगाह विकसित करेगा। बता दें कि म्यांमार में पहले से ही दो चीनी निर्मित बंदरगाह मौजूद हैं।

चीन के बेल्ट एवं रोड प्रोजेक्ट के तहत, इस परियोजना के वित्त पोषण पर दीर्घकालिक वार्ता के बाद गुरुवार को बीजिंग और ने-पी-टॉ के बीच इस सौदे पर मुहर लगी है। गौरतलब है कि चीन पाकिस्तान में ग्वादर बंदरगाह का निर्माण कर रहा है और श्रीलंका में रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण हंबनटोटा बंदरगाह को 99 साल के लिए लीज पर लिया है। इसके अलावा, वो बांग्लादेश के चटगांव में भी एक बंदरगाह को वित्त पोषित कर रहा है। भारत पड़ोसी देशों में हो रहे चीन विकसित बंदरगाहों को हिंद महासागर में घेरने की रणनीति के तौर पर देखता है।

हालांकि म्यांमार चीन के बढ़ते निवेश से सावधान हो गया है और देश में अपनी कुछ परियोजनाओं को घटा दिया है। चीनी की मीडिया के मुताबिक, यह बंदरगाह सौदा बेल्ट एवं सड़क के निरंतर कार्यान्वयन के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। ग्लोबल टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, चीन इस परियोजना में 70 फीसदी धन निवेश करेगा, जबकि शेष 30 फीसदी निवेश म्यांमार करेगा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement