Watch Making of Dilbar Song From Satyameva Jayate

दि राइजिंग न्यूज

संजय शुक्ल

लखनऊ।

 

अक्षय तृतीया का पर्व और सोने पे सुहागा कि पूरे दिन का सर्वसिद्धि योग। ऐसे में बढिया व्यापार की उम्मीद लगाए कारोबारियों के लिए खाली एटीएम और नगदी की किल्लत को सशंकित कर दिया है। सराफा बाजारों में अक्षय तृतीया की रौनक मंगलवार से दिखने लगी थी लेकिन कारोबारियों के मन में कुछ शक भी था। नगदी की कमी के कारण बाजार पर इसका असर होना भी स्वाभाविक माना जा रहा है। ऐसे में शुभ -शगुन भर की खरीदारी होने की उम्मीद की जा रही है।

लखनऊ सराफा एसोसिएशन के महामंत्री प्रदीप अग्रवाल के मुताबिक बाजारों में अक्षय तृतीया पर खासा कारोबार होता रहा है लेकिन इस बार व्यापार सामान्य ही रहने के आसार है। इसकी एक वजह है सोने के दाम। दरअसल सीरिया पर अमेरिका के हमले के बाद उत्पन्न स्थितियों में सोने के दाम में इजाफा हो गया है। इसके अलावा सरकार की पाबंदियों के कारण सोने में निवेश करने वाले लोग भी काफी कम हो गए हैं। इस कारण से केवल पर्व के तौर या शुभ –शगुन के रूप में सोने –चांदी की बिक्री होने की ज्यादा उम्मीद की जा रही है। वहीं नगदी की किल्लत भी कारोबार के लिए दिक्कत साबित हो सकती है।

दरअसल, राजधानी में पचास फीसद से ज्यादा एटीएम खाली पड़े हैं। एटीएम से पैसा निकल नहीं रहा है। इसके अलावा तमाम सराफा दुकानों पर एटीएम कार्ड से पैसा लिया ही नहीं जाता है। उसके बजाए लोगों से एटीएम से नगद निकाल कर भुगतान करने कहा जाता है। अब एटीएम में पैसा न होने के कारण इसका भी असर व्यापार पर पड़ना स्वाभाविक माना जा रहा है। हालांकि एटीएम में करेंसी की कमी पिछले कई दिनों से देश के तमाम शहरों में बनी हुई है। इस कारण से अक्षय तृतीया पर्व इस बार बहुत ज्यादा खरीदारी की संभावना भी कम है।

 

चौक सराफा एसोसिएशन के संरक्षक कैलाश चंद्र जैन के मुताबिक हालांकि अक्षय तृतीया पर सर्वसिद्धि योग है और इस कारण से व्यापार ठीक रहने के आसार हैं लेकिन इस बार नगदी की तंगी जरूर कुछ असर दिखाएगी। कारण है कि लोग सोना आदि कैश में खरीदने में ज्यादा भरोसा रखते हैं। अब एटीएम से पैसा नहीं मिलेगा तो खरीदारी कैसे होगी। वहीं जैन ज्वैलर्स के आदीश जैन के मुताबिक अक्षय तृतीया पर कारोबार अच्छा होने की संभावना है। बाजारों में कम वजन की डिजाइनर ज्वैलरी की बड़ी रेंज है। सोने के दाम व खरीदारों की मंशा को भांपते हुए तमाम कंपनियों व कारोबारियों ने हीरे व सोने की डिजाइनर ज्वैलरी को बाजार में उतारा है।

इस बार सोना दो हजार रुपये प्रति दस ग्राम महंगा

पिछले साल के मुकाबले में सोने की कीमत पिछले साल के मुकाबले करीब दो हजार रुपये प्रति दस ग्राम ज्यादा है। पिछले अक्षय तृतीया पर सोने की कीमत 30390 रुपये प्रति दस ग्राम थी जबकि इस बार सोने की कीमत करीब 32400 रुपये प्रति दस ग्राम है। हालांकि सोना एक सप्ताह पहले तक 31 हजार रुपये के आसपास था। पिछले दिनों सीरिया पर अमेरिका के हमले के बाद सोने के दाम में कुछ तेजी आई है। कीमत बढ़ने के कारण इस बार निवेश के तौर पर सोने खरीदने वाले इसमें दिलचस्पी कम ले रहे हैं।

 

खोज रहे पैसा देने वाले एटीएम

राजधानी में लोगों को एटीएम तलाशने में भी खासी मशक्कत करनी पड़ रही है। चारबाग, चौक, नाका हिंडोला, महानगर आदि इलाकों में तमाम एटीएम पर पैसा उपलब्ध नहीं है। लोगों को अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड से पैसा निकालने के लिए उन एटीएम को खोजना पड़ रहा है, जिसमें पैसा उपलब्ध हों। चौक में कोनेश्वर मंदिर के ठीक सामने आधा दर्जन से ज्यादा बैंकों के एटीएम हैं लेकिन इनमें पैसा एक – दो में ही मिल रहा था। बाकी में पैसा न होने के कारण लोगों को वापस होना पड़ा। यही हाल हजरतगंज में भी तमाम एटीएम का रहा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll