Home Rising At 8am Case Of Policemen Not Wearing The Helmet While Riding Motor Bike

दिल्लीः स्कूल वैन-दूध टैंकर की टक्कर, दर्जन से ज्यादा बच्चे घायल, 4 गंभीर

पंजाबः गियासपुर में गैस सिलेंडर फटा, 24 घायल

कुशीनगर हादसाः पीएम मोदी ने घटना पर दुख जताया

बंगाल पंचायत चुनाव में हिंसाः बीजेपी करेगी 12.30 बजे प्रेस कांफ्रेंस

कुशीनगर हादसे में जांच के आदेश दिए हैं- पीयूष गोयल, रेल मंत्री

पुलिस की वर्दी के आगे यातायात नियम बौने

| Last Updated : 2017-11-03 09:30:10

 

  • खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे है पुलिस अधिकारी
  • यातायात माह में अलसाई दिख रहीं ट्रैफिक पुलिस  

Case of Policemen Not Wearing the Helmet While Riding Motor Bike


दि राइजिंग न्‍यूज

संजय शुक्ल

लखनऊ।

 

राजधानी में गंभीर होती जाम व ट्रैफिक की समस्या को लेकर एसएसपी दीपक कुमार ने बुधवार को खासी नाराजगी जताते हुए इस पर आपत्ति जताई। उन्होंने यहां तक कहा कि ऐसी स्थिति में बाहर से निवेश करने वाले कैसे आएंगे। उनकी बात गंभीर है लेकिन हकीकत उन्हीं के महकमे के लोगों को देखकर सामने आ जाती है।

(फोटो:अभय वर्मा ) 

(फोटो:अभय वर्मा ) 

खाकी वर्दी, कमर में पिस्तौल। आंखों पर चश्मा और मोटरसाइकिल। मगर हेलमेट नहीं। क्या दारोगा और क्या होमगार्ड। राजधानी की सड़क पर इस तरह से फर्राटा भरते पुलिस कर्मी हर इलाके में दिखते हैं। आम राहगीरों को दौड़ा दौड़ा कर हेलमेट की जांच करने वाली राजधानी की मुस्तैद पुलिस वालों को अपने सहयोगी नहीं दिखाई देते। यानी यातायात नियम भी पुलिस व आम नागरिकों के लिए बदल जाते हैं। यातायात माह के दौरान भी यातायात पुलिस के रवैये में कोई बदलाव नहीं दिखाई दे रहा है।

(फोटो:अभय वर्मा ) 

पुलिस के संरक्षण में निर्देशों की अवहेलना

 

अब जरा हजरतगंज देखिए। हजरतगंज में मेट्रो के निर्माण के चलते यातायात व्यवस्था महीनों से प्रभावित चल रही है। मगर इस निर्माण कार्य के दौरान रिक्शा, बैट्री रिक्शा व आटो रिक्शा धड़ल्ले से चल रहे हैं। जबकि हजरतगंज में ही तीन स्थानों पर इस तरह के वाहनों को प्रतिबंधित करार दिया गया है। बावजूद इसके ड्यूटी प्वाइंट पर मौजूद पुलिस कर्मी वसूली के चक्कर में रिक्शों को हजरतगंज में प्रवेश दे रहे हैं। जनपथ गेट हो या फिर कैथेड्रल मोड़ यहां तो रिक्शा स्टैंड बन गया। यही कुछ हालत चौराहे पर बने ट्रैफिक पुलिस बूथ की भी है। यहां पर बैंक का गेट आटो रिक्शा व रिक्शा स्टैंड बन गया है।

(फोटो:अभय वर्मा ) 

रॉंग साइड चलवाते हैं ट्रैफिक

 

केवल इतना ही नहीं, डालीगंज पुल पर तो ट्रैफिक पुलिस व होमगार्ड के सिपाही ही रॉंग साइड ट्रैफिक चलवाते हैं। यानी पुलिस की मौजूदगी व इजाजत से ही शहीद स्मारक की ओर से आने वाले वाहन बिना पुल पर गलत दिशा से मुड़ते हैं। जबकि एक दारोगा तथा करीब आधा दर्जन पुलिस कर्मी हर वक्त पुल पर मौजूद रहते हैं। यही हालत कंवेंशन सेंटर क्रासिंग का भी है। यहां से भी बैरीकेडिंग के बगल से ही वाहन चालक गलत दिशा से डालीगंज पुल की ओर आते हैं। इसके कारण रोज कई बार हादसा होते होते बचता है लेकिन वाहन चालक सुधरने को तैयार है न ट्रैफिक पुलिस।

(फोटो:अभय वर्मा ) 

(फोटो:अभय वर्मा ) 

यातायात माह के दौरान लोगों को जागरूक करना ही मुख्य मकसद होता है। यातायात नियम सभी के लिए समान है और जिन्हें नियमों का पालन कराना है, वे ही पालन नहीं करेंगे तो लोगों से कैसे अपेक्षा की जा सकती है। गुरुवार को कई मरीजों को दिल्ली भेजा जाना था और इस कारण से काफी फोर्स ग्रीन कारीडोर में व्यस्त रहा लेकिन शुक्रवार से प्रभावी तरीके से यातायात नियमों का पालन कराया जाएगा।

रविशंकर निम

एसपी ट्रैफिक



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...







खबरें आपके काम की