Kajol Says SRK is Giving Me The Tips of Acting

दि राइजिंग न्‍यूज

आशीष सिंह

लखनऊ।

 

शहर में पार्किंग खाली कराने के मामले पर लखनऊ विकास प्राधिकरण उच्‍च न्‍यायलय को भी गुमराह कर रहा है। यही कारण है कि कड़ी फटकार के बाद पांच महीने का समय बीत गया लेकिन एक भी पार्किंग खाली नहीं हो पाई। कार्रवाई के मामले पर आदेश फाइलों में दब गए और उन पर धूल भी जम गई। इसके बाद भी ना तो प्राधिकरण के अभियंताओं को आदेश का क्रि‍यान्‍वयन कराने का समय मिला और ना ही उच्‍च अधिकारियों ने कोई रिपोर्ट लेने की जरूरत समझी। अब मामले पर सचिव मंगलाप्रसाद सिंह ने अभियंताओं को तलब कर पार्किंग खाली कराने का जवाब मांगा है। रिपोर्ट इसके बाद से ही अभियंताओं की होश उड़ गए हैं।

 

दरअसल अक्‍टूबर 2017 में न्‍यायालय ने एलडीए को फटकार लगाई तो प्राधिकरण ने शहर की पार्किंग खाली कराने की योजना बनाई। इसके तहत कई चरणों में काम पूरा किया जाना था। तत्‍कालीन सचिव जय शंकर दुबे ने प्रथम चरण के अंदर छह जोन के पांच-पांच पार्किंग सहित कुल 30 पार्किंग को नोटिस जारी किया था। आदेश में साफ लिखा गया था कि एक सप्‍ताह के अंदर संचालक द्वारा इन पार्किंग को खाली करा लिया जाए अन्‍यथा प्राधिकरण ने खाली कराया तो इसका भुगतान भी संचालक से ही लिया जाएगा। पूरे मामले पर क्षेत्रीय अधिशासी अभियंताओं को प्रभारी नियुक्‍त किया गया था। कार्रवाई के बाद 16 अक्‍टूबर 2017 को समीक्षा भी होनी थी। हालांकि इसके कुछ ही दिन बाद सचिव का स्‍थानांतरण हुआ तो फाइल ठंड़े बस्‍ते में चली गयी और अभियंताओं ने भी मामले पर पर्दा डाल दिया।  

 

यह थी प्रथम चरण की योजना-

प्रथम चरण की योजना के तहत उन पार्किंगों को नोटिस जारी किया गया था जिन कॉम्‍प्‍लेक्‍सों में पार्किंग का नक्‍शा तो पास था लेकिन पार्किंग को किसी और रूप में प्रयोग किया जा रहा था। इसमें दुकानों से लेकर कमरे तक शामिल थे। इससे यहां पर खड़े होने वाले वाहन सड़कों पर खड़े होने लगे और ट्रैफिक जाम होने लगा। ऐसे में इन्‍हें ध्‍वस्‍त करते हुए पार्किंग को मुक्‍त कराने की योजना थी। यह योजना अपने अंजाम तक पहुंच पाती कि एलडीए के अधिकारियों ने इसे सुस्‍त कर दिया। 

इन्‍हें जारी हुयी थी नोटिस-

जोन-एक से 1- जेनेसिस अस्‍पताल, प्‍लॉट नंबर – एनएच-1 विवेक खंड-2 गोमती नगर, 2-निदान डायग्‍नोस्टिक विवेक खंड-2 गोमतीनगर, 3- आरोही प्‍लाजा सीपी 5/1, 4- गोमती प्‍लॉजा सीपी 5/2, 5- लक्ष्‍मी वरदानसीपी 5/3 विकास खंड गोमती नगर शामिल हैं।

जोन-2 से 1 प्रवीण जैन व अन्‍य केबीसी-3 से-बी, कानपुर रोड, 2-अमन सिंह बोहरा- ए – 862 से.- आई, कानपुर रोड, 3- प्रि‍यम क्रॉसिंग प्‍लाजा सीपी 2/1 रतन खंड शारदानगर, 4-कैलाश लॉज, 8/1 सरस्‍वतीपुरम और 5- आस्‍था पैलेस 8/2 सरस्‍वतीपुरम, रायबरेली रोड, 6- मे. नामधारी डेवलपर्स अम्रपाली प्‍लॉट सं. एक रायबरेली रोड हैं।

जोन-3 में 1- मोहम्‍मद इस्‍लाम तिवारीपुरम कॉलोनी कानपुर रोड, 2- मोतीलाल मकान नंबर 560/95/55 कृष्‍णानगर, कानपुर रोड विद्या डायग्‍नोस्टिक सेंट/रचना मैटरनिटी सेंटर, 3-ममता जैन मकान नंबर 555/जीए 74/1 बाराबिरवा कृष्‍णानगर, स्‍वास्तिक ग्रेनाइट कुरैशी मार्बल एंड प्‍लाईवुड शॉप, 4-अमित राजपाल मकान नंबर 9 ई, राजपाल प्‍लॉजा सिंगार नगर, कानपुर रोड और 5- सत्‍येंद्र भवनानी मकान नंबर 9 डी सिंगार नगर, अवध हास्पिटल एंड हार्ट सेंटर कानपुर रोड है।

जोन-4 से 1- तारिक सीपी 67 व68 आदर्श कॉम्‍प्‍लेक्‍स एवं शिवा प्‍लॉजा सेक्‍टर ई अलीगंज सीतापुर रोड, 2- तैय्यब सीपी 66 निशिता प्‍लॉजा सेक्‍टर ई अलीगंज, 3- शिव कुमार गुप्‍ता सीपी 63 आशीष प्‍लॉजा सेक्‍टर-ई अलीगंज, 4- नारायण प्‍लॉजा सीपी 65 से.- ई अलीगंज और 5- कृष्‍णा अग्रवाल ए-21 ग्‍लोबल पार्क निराला नगर।

जोन-5 में 1-जानकी प्‍लॉजा जी-19, जानकीपुरम चार नंबर चौराहा,2- भावना कॉम्‍प्‍लेक्‍स सेक्‍टर एफ, सहारा स्‍टेट रोड जानकीपुरम, 3- यूनिवर्सल स्‍क्‍वायर अपार्टमेंट मो- घोसियाना महानगर और 4- मेघा पार्क न्‍यू अपार्टमेंट सी-822 सेक्‍टर- सी महानगर।

जोन-6 से कसमंडा हाउस 2, पार्क रोड हजरतगंज, 2-रेजीडेंसी प्‍लॉजा, 5 पार्क रोड, 3-एएफ टावर आफर्ड, पार्क रोड 4-शालीमार आफर्ड 5 पार्क रोड और 5- आशा अपार्टमेंट प्रथम राणा प्रताप मार्ग को चिन्हित करते हुए नोटिस भेजी गई है।

“यह सही है कि पार्किंग को खाली कराने को लेकर देरी हुई है। कुछ कार्य आ गए थे इसलिए इस ओर काम सुस्‍त हो गया। मामले पर जोनल अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी गई है। इसके बाद ही पता चल पाएगा कि पार्किंग खाली कराने में कितना काम हुआ है। जल्‍द ही इन पार्किंग को खाली कराते हुए अन्‍य चरणों पर कार्रवाई होगी।”

मंगला प्रसाद सिंह

सचिव, एलडीए

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement