Actor Abhishek Bachchan to Enter Web Series with Breathe-2

दि राइजिंग न्‍यूज

संजय शुक्ल

लखनऊ।

 

पानी से दूध बनाने का जादू। जी हां चौकिंए नहीं, होली पर्व पर दूध की बढ़ी मांग को पूरा करने के लिए यह खेल अब राजधानी से लेकर पश्चिम उत्तर प्रदेश तक जोरों पर चल रहा है। खास बात यह है कि इस पूरे खेल में शुद्ध दूध महज दस फीसद होता है और बाकी का सफेद घोल यूरिया-डिटर्जेंट और केमिकल से तैयार हो रहा है। इसे दूध मंडियों से लेकर विभिन्न दूध फैक्ट्रियों में खपाया जा रहा है। खास बात यह है कि इस मिलावटी दूध के लगातार मिलने के बाद भी खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन केवल गुडवर्क के नाम पर ही अपनी पीठ थपथपा रही है जबकि विभिन्न मंडियों में हजारों लीटर दूध रोज बिक रहा है।

खास बात यह है कि पकड़-धकड़ में भी इतने पेंच हैं कि विभाग अमूमन खाली हाथ ही रह जाता है। अब शुक्रवार को हुई कार्रवाई पर गौर करें। विभाग ने एक टैंकर मिलावटी दूध पकड़ा, लेकिन टैंकर चालक भाग निकला। इसके पहले मोहनलालगंज में पुलिस ने एक दूध फैक्ट्री के टैंकर में मिलावटी दूध पकड़ा। खाद्य सुरक्षा विभाग के मुस्तैद अधिकारी वहां पहुंचे, लेकिन फिर चैंबर की सील टूटी होने की दुहाई देकर लौट गए। सील के नाम पर दूध कंपनी ने भी पल्ला झाड़ लिया। मामला ठंडे बस्ते में पहुंच गया। हालांकि इस कार्रवाई को लेकर खाद्य सुरक्षा विभाग को शासन से भी कड़ी फटकार सुननी पड़ी।

आलू-मैदा से तैयार हो रहा खोवा

होली के मौके पर दूध ही नहीं, दूध के उत्पादों के साथ ही जमकर मिलावट का खेल चल रहा है। अमूमन गुझिया–मिठाई हर घर में बनती है। इस कारण से इसकी मांग भी आसमान पर पहुंच जाती है। इस कारण से आलू-मैदा-रिफाइंड से जमकर खोवा तैयार किया जाता है। इसे बाजारों में बेचा जाता है। चारबाग, ठाकुरगंज, सीतापुर रोड आदि मंडियों में मिलावटी खोवा जमकर खपाया जा रहा है। जबकि खाद्य सुरक्षा विभाग केवल गिनती बढ़ाने भर की कार्रवाई कर रहा है।

"होली आदि के मौके पर मिलावटी दूध-खोवा आदि की आपूर्ति बढ़ जाती है। इसके लिए अभी कार्रवाई शुरू कर दी गई है। सूचना के आधार पर लगातार छापेमारी हो रही है। इसमें पकड़े जाने वाले संदिग्ध उत्पादों को नष्ट कराया जा रहा है।"

टीआर रावत

मंडलीय अधिकारी खाद्य सुरक्षा

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement