Biker Died After Collision Between Him and  Zareen Khan Car

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

टेलीविजन की दुनिया में कलाकारों की कोई कमी नहीं है। कोई संघर्ष तो कोई किस्‍मत के चलते इसमें अपनी पैठ जमाता है। कुछ ऐसा ही सफर रहा “तू सूरज मैं सांझ पियाजी” की मधुरा नाईक का।

गुरुवार (21 दिसंबर) को नवाबों के शहर में मधुरा का आगमन हुआ। “तू सूरज मैं सांझ पियाजी” शो में अहम भूमिका निभाने वाली एक्‍ट्रेस ने दि राइजिंग न्‍यूज से अपनी जिंदगी के कुछ अहम पहलू साझा किए।

पहले शरणार्थी और फिर मॉर्डन रोल

अपने किरदार पर रोशनी डालते हुए मधुरा ने बताया कि शो में वे एक शरणार्थी (पलोमी) का रोल प्‍ले कर रही हैं। पलोमी उमा शाह (अविनेश रेखी) की भक्ति रूपी पूजा करती है, लेकिन ये कब प्‍यार में तब्‍दील हो जाता है उसे पता भी नहीं चलता।

विदेश में की है पढ़ाई

मधुरा ने बताया, “मैं इंदौर से हूं, लेकिन सालों पहले पेरेंट्स मुंबई में आकर बस गए। शुरुआती पढ़ाई यहीं से हुई, लेकिन उसके वहीं से मैंने विदेश जाकर अपनी आगे की पढ़ाई पूरी की। मेरे पापा एयरोनॉटिकल इंजीनियर हैं, मम्मी हाउस वाइफ और भाई इस समय फरहान अख्तर के साथ काम कर रहा है। मैं भी “जेनेटिक इंजीनियर” बनना चाहती थी, लेकिन एक्‍टर बन गई।

जल्‍दी एडजस्‍ट कर लेती हूं...

मैं जब विदेश से वापस आई तो मुझे हिंदी बोलने में थोड़ी परेशानी हुई। मगर मुझे बचपन से ही घर पर पेरेंट्स ने हिंदी सिखाई तो जल्‍दी एडजस्‍ट कर लिया।

मैंने कोई ऑडिशन नहीं दिया

मैंने शैल ओसवाल के साथ पहला म्यूजिक वीडियो “उम्र भर” किया था, क्‍योंकि वह पुंडूचेरी में शूट हुआ था। मुझे पुंडूचेरी देखने का बहुत शौक था। जब एकता कपूर ने इस वीडियो को देखा तो मुझे “कहानी घर-घर की” में काम करने का ऑफर दिया। मैंने कोई ऑडिशन नहीं दिया है। मैंने अपने कैरियर की शुरुआत बालाजी यूनिवर्सल से की थी।

फैमिली को नहीं पसंद थी एक्टिंग

मेरे घरवाले बिल्कुल नहीं चाहते थे कि मैं इस फील्‍ड में आऊं। खासकर पापा काफी नाराज होते थे। बचपन से ही मेरा एक्टिंग, डांसिंग और सिंगिंग में काफी लगाव था।

फैमली के सामने अचानक से खुला राज़...

एक बार पापा टीवी देख रहे थे और “कहानी घर-घर की” आ रहा था। इत्तेफ़ाक से मैं वहीं बैठी थी। अचानक से मेरा सीन सामने आया और मुझे एक्टिंग करता देख पापा बहुत नाराज हुए। उन्होंने तुरन्त मम्मी को बुलाकर बताया तो वो भी शॉक्ड रह गईं। जिन रोल्स के लिए लोग तमाम लोगों से एप्रोच लगाते थे, मैं यूं ही करके चली आई थी और घर में किसी को पता भी नहीं चला था।

टीवी शो के आगे फिल्‍मों के ऑफर छोड़े...

मैंने टीवी शो के बीच में ही दो बॉलीवुड फिल्‍में “प्‍यार इंपॉसिबल” और “गुड बॉय, बैड बॉय” की। उसके बाद मुझे कई फिल्‍मों के ऑफर आते थे, लेकिन मुझे चुनना था कि मैं फिल्‍मों में काम करूं या टेलीविजन शो। तो मैंने टेलीविजन शो किया क्‍योंकि बालाजी के साथ मैंने शुरुआत की थी और उसे रिजाइन नहीं करना चाहती थी।

बड़े प्रोडक्‍शन हाउस से आया ऑफर तो करूंगी फिल्‍म

अभी मैं लगातार दो सालों से टेलीविजन शो कर रही हूं और आगे भी करूंगी। लेकिन अगर मुझे किसी बड़े प्रोडक्‍शन हाउस से फिल्‍म का ऑफर आता है तो मैं जरूर करूंगी। वैसे मैंने एक मराठी मूवी लूस कंट्रोल की है जो 11 जनवरी को रिलीज होगी।

ये है इनका सपना

मधुरा एंजेलिना जॉली को पसंद करती हैं। उन्‍हें एक्‍शन फिल्‍में-सीन बहुत पंसद हैं। अगर मौका मिला तो मधुरा एक्‍शन सीन एक बार जरूर करेंगी।  

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement