Nitin Gadkari Biopic Trailer Out

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

दुनिया में कई ऐसे हिस्से हैं जहां की परंपराएं, रितियां और रिवाज हमें नए सिरे से सोचने पर मजबूर कर देते हैं। मजबूरी के नाम पर यहां मनमाने काम किए जाते हैं। महिलाओं से न सिर्फ उनका अधिकार छीना जाता है बल्कि उनके दामन पर गहरे जख्म भी दे दिए जाते हैं। यहां हम बात कर रहे हैं दिल्ली एनसीआर के नजफगढ़, प्रेमनगर और धर्मशाला में रहना वाले परना समुदाय की। परना समुदाय के लोग देह व्यापार की परंपरा को काफी समय से निभाते आ रहे हैं।

लड़की पैदा होने पर मनता है जश्न

इस गांव में लड़की के पैदा होने पर जश्न मनाया जाता है। लड़कियां जब तक कुंवारी रहती हैं तब बेटी के परिवार वाले इसे बेच देते हैं और शादी के बाद पत्नी की कमाई पर उसके पति का हक होता है। लिहाजा कई ऐसे परिवार हैं जहां पति ही अपनी पत्नी के लिए ग्राहक तलाश करता है और उसे लाकर देता है। यहां पर लड़कियों को छोटी कक्षाओं तक पढ़ाई की अनुमति दी जाती है। जवानी की दहलीज पर कदम रखते ही उन्हें हैवानों के हाथ बेच दिया जाता है। यदि कोई लड़की देह व्यापार के दल-दल में उतरने से इनकार कर देती है तो उसको काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement