Neha Kakkar First Time Respond On Question Of Ex Boyfriend Himansh Kohli

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

आसमान में जब विमान उड़ता है तो कई बार बर्ड्स उससे आकर टकरा जाते हैं। इन घटनाओं को बर्ड स्ट्राइक कहते हैं। The International Civil Aviation Organization (ICAO) ने बताया कि 2011-14 के बीच 65,139 बर्ड स्ट्राइकस हुए थे। क्या होता है टकराने के बाद...

जब चिड़िया प्लेन से टकराती है तो प्लेन के इंजन काम करना बंद कर देते हैं। हालांकि, पायलट्स को ऐसे सिचुएशन में प्लेन चलाने की ट्रैनिंग पहले से होती है। ज्यादातर बर्ड स्ट्राइक तब होती हैं जब प्लेन टेक ऑफ करता है या फिर लैंड करता है। साल भर में सबसे ज्यादा स्ट्राइकस जुलाई और अक्टूबर के बीच में देखी जाती हैं।

बर्ड स्ट्राइक के कारण हुई थी 35 लोगों की मौत

1988 में एक घटना हुई थी जिसमें कुछ कबूतर प्लेन के टेक ऑफ के समय दोनों इंजिन्स से टकरा गए थे। इस वजह से प्लेन क्रैश हो गया था और 35 लोगों की मौत हो गई थी।

हर साल बर्ड स्ट्राइक के कारण 7800 करोड़ रुपए का नुकसान होता है

अमेरिकी एयरलाइन्स ने बताया है कि हर साल बर्ड स्ट्राइक के इतने मामले सामने आते हैं कि लगभग 7800 करोड़ रुपए का नुकसान हो जाता है। सबसे ज्यादा लॉस बर्ड स्ट्राइक के होने के बाद फ्लाइट के डिले और कंस्लेशन से होता है।

https://www.therisingnews.com/?utm_medium=thepizzaking_notification&utm_source=web&utm_campaign=web_thepizzaking&notification_source=thepizzaking

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement