Home Jara Hat Ke This Is The Robot Priest Set To Funeral

सेंचुरियन वनडे: भारत ने जीता टॉस, पहले गेंदबाजी का फैसला

सेंचुरियन वनडे: टीम इंडिया में एक बदलाव, शार्दुल ठाकुर को मिला मौका

PNB घोटाले के दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा, चाहे वो राहुल गांधी ही क्यों ना हों: नरसिम्हा राव

दिल्ली: प्रकाश जावड़ेकर कुछ ही देर में करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस

त्रिपुरा में चुनाव प्रचार खत्म, 18 फरवरी को होगी वोटिंग

अब प्रीस्‍ट बनकर रोबोट कराएगा लोगों का क्रियाकर्म

Jara Hat Ke | 03-Sep-2017 | Posted by - Admin

   
This is the Robot Priest Set to Funeral

दि राइजिंग न्‍यूज

आउटपुट डेस्‍क।

 

साइंस की दुनिया में दिनों-दिन आविष्‍कार के ऐसे फॉर्मूले बनते हैं जिन्‍हें देख लोग हैरान रह जाते हैं और इसी कड़ी में ताजा उदाहरण जापान में देखने को मिला है। जापान ने तकनीक का इस्तेमाल कर एक रोबोट प्रीस्ट का आविष्कार किया है।  जानकर चौंक गए न आप, लेकिन यह सच है कि जापान में रोबोट को प्रीस्‍ट यानि पंडित बनाया गया है जो बौद्ध धर्म के लोगों का मरने के बाद अंतिम संस्‍कार करेगा।

 

 

जापानी लोग नई-नई चीजों का आविष्‍कार करने के मामले में दुनिया में नंबर वन हैं और हाल ही में जापान की एक रोबोट कंपनी ने “पेप्‍पर” नाम का एक ऐसा ह्यूमनाइड रोबोट लॉंच किया है, जो पंडित या प्रीस्‍ट की तरह श्‍लोक पढ़ते हुए धार्मिक कर्मकांड सम्‍पन्‍न करा सकता है।

 

 

टोक्‍यो में चल रहे इस एक्‍सपो में सॉफ्टबैंक रोबोटिक कंपनी ने “पेप्‍पर” नाम का एक रोबोट लॉंच किया है, जो बोद्ध धर्म के प्रीस्‍ट या पंडित की तरह कपड़े पहनता है। साथ ही वो छोटा सा ड्रम बजाते हुए मंत्र और श्‍लोक पढ़कर किसी के अंतिम संस्‍कार की प्रक्रिया को विधि विधान से पूरा करा सकता है।

 

 

क्रियाकर्म का खर्चा करेगा कम

जापान की कम होती आबादी के बीच बौद्ध धर्म से जुड़े प्रीस्‍ट अपने धर्म और कम्‍युनिटी से जुड़े गिने चुने काम करके अपनी जरूरत भर का नहीं कमा पाते हैं। इस कारण ये बौद्ध प्रीस्‍ट अपने मठ, मंदिर छोड़कर शहरों में काम करने चले जाते हैं, इस कारण क्रियाकर्म के लिए समय पर प्रीस्‍ट का मिलना मुश्‍किल हो जाता है। यही वजह है कंपनी ने ऐसा रोबोट प्रीस्‍ट बनाया है जो असली प्रीस्‍ट के न होने की कंडीशन में लोगों के अंतिम संस्‍कार का पूरा विधान फॉलो कर सकेगा।

 

 

जापान में जहां एक ओर ह्यूमन प्रीस्‍ट से क्रियाकर्म कराने पर दो लाख 40 हजार येन (करीब 22 डॉलर) खर्च आता है, वहीं यह रोबोट प्रीस्‍ट सिर्फ 50 हजार येन यानि 450 डॉलर में यह धार्मिक अनुष्‍ठान पूरा कर देगा।

 

 

रोबोट प्रीस्‍ट को देखकर चौंक रहे लोग

जापान में लोगों को पहली बार ऐसा रोबोट प्रीस्‍ट देखने को मिला है। तमाम लोग तो इसे देखकर चौंक रहे हैं और कह रहे हैं कि ये रोबोट कैसे ये सबकुछ कराएगा। हालांकि तमाम लोग इसे एक नई शुरुआत बता रहे हैं।

 

यहां देखें वीडियो-

 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555







TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


https://www.therisingnews.com/slidenews-personality/a-day-with-doctor-sarvesh-tripathi-1668



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news