Home Jara Hat Ke Temple Which Provides Shelters For Love Ones

लखनऊ: छात्र को चाकू मारने के मामले में आरोपी से आज होगी पूछताछ

राहुल गांधी से मिलने उनके आवास पहुंचे पंजाब के CM अमरिंदर सिंह

अग्नि-5 मिसाइल का सफल परीक्षण, 6000 KM है मारक क्षमता

सुप्रीम कोर्ट के चारों नाराज जजों की CJI के साथ बैठक शुरू

353.69 अंकों की बढ़त के साथ 35,435.51 पर खुला सेंसेक्स

वो मंदिर जहां मिलता है प्यार करने वालों को सहारा

Jara Hat Ke | 09-Dec-2017 | Posted by - Admin
   
Temple Which Provides Shelters for Love Ones

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

प्रेमी जोड़े अपने प्यार को सुरक्षित रखने के लिए दुनिया के हर मंदिर में माथा टेकते हैं। उन्हें विश्वास रहता है कि भगवान उनके प्यार को हमेशा साथ रखेंगे। ऐसे ही प्रेमी जोड़ों के लिए आज हम एक अहम जानकारी लाये हैं। हिमांचल प्रदेश में कुल्लु के शांघड़ गांव में एक शंगचूल महादेव मंदिर है जो कि प्रेमी जोड़ो को सुरक्षित जगह प्रदान करता है।

हिमांचल प्रदेश में है

 

  • शंगचुल महादेव मंदिर हिमांचल प्रदेश के कुल्लु के शांघड़ गांव में है जहां पर प्रेमी जोड़ों को सुरक्षित आश्रय दिया जाता है जहां कोई भी उन्हें नुकसान नहीं पहुंचाया जा सकता है।

  • शंगचुल महादेव मंदिर लगभग 100 बीघा के क्षेत्रफल के मैदान में फैला हुआ है। प्राचीन परंपराओँ के अनुसार ही ऐसा माना जाता है कि मंदिर परिसर में आते ही प्रेमी जोड़ों को देवताओँ की शरण में आया हुआ मान लिया जाता है जिसके बाद उन्हें अलग से सुरक्षा दी जाती है।

सख्त हैं नियम

 

  • शांघड़ गांव में प्रेमी जोड़ों की सुरक्षा करने वाले इस मंदिर में पुलिस भी नहीं आ सकती है और साथ ही यहां पर लोगों के शराब, सिगरेट और चमड़े का सामान लाने पर भी प्रतिबंध है।

  • इस मंदिर में कोई भी व्यक्ति किसी भी प्रकार की लड़ाई नहीं कर सकता है और साथ ही ना ही ऊंची आवाज में बात कर सकता है।

इतिहास

 

  • मंदिर के पुराने लोगों और पुजारियों के अनुसार लोगों की ऐसी मान्यता है कि अज्ञातवास के दौरान यहां पर पांडव भी कुछ समय के लिए रुके थे। कौरव, पांडवों का पीछा करते हुए वहां तक आ गये थे जिसके बाद शंगचूल महादेव ने पांडवों की रक्षा की और साथ ही कौरवों को अपने मंदिर में प्रवेश भी नहीं करने दिया।

  • उसके बाद में महादेव शंगचुल मंदिर में जब भी कोई प्रेमी जोड़ा आता है तो फिर उसे यहां पर सुरक्षा की शरण की जाती है। जब तक प्रेमी जोड़े की सुरक्षा सुनिश्चित नहीं हो पाती है तब तक मंदिर के पुजारी आदि उस जोड़े की सुरक्षा और देखभाल करते हैं।

  • इस मंदिर में कोई भी व्यक्ति किसी भी प्रकार की लड़ाई नहीं कर सकता है और साथ ही ना ही ऊंची आवाज में बात कर सकता है।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555







Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news