Swara Bhaskar Speaks on Her Disabilities

दि राइजिंग न्‍यूज

आउटपुट डेस्‍क।

 

एक सवाल ऐसा जिस पर सालों से लोगों के बीच बहस होती चली आ रही है और वह है अंडा मांसाहारी है शाकाहारी? जो लोग इसे मांसाहारी मानते हैं उनकी दलील है कि मुर्गी नॉन-वेज है इसलिए उसका अंडा भी नॉन-वेज हुआ। कुछ तो यह भी कहते हैं अंडा से चूजा निकलता है इसलिए यह मांसाहारी है।

वहीं, दूसरी तरफ जो लोग अंडा को शाकाहारी बताते हैं उनका तर्क यह होता है कि जब गाय से निकला दूध शाकाहारी है, तो फिर मुर्गी से निकला अंडा शाकाहारी क्यों नहीं हो सकता?

मगर इस विषय पर क्‍या कहती है वैज्ञानिकों की खोज?

ऐसे अंडा देती है मुर्गी

जिन लोगों का यह मानना है कि अंडे से चूजा निकलता है इसलिए वह नॉन वेज है, उन लोगों के लिए यह जानना जरूरी है कि मुर्गी अंडा देती कैसे है। दरअसल, मुर्गी हर एक-डेढ़ दिन पर अंडे देती है। मगर यह जरूरी नहीं वह अंडा मुर्गे के संपर्क में आने से ही बना हो।

ऐसे अंडे शाकाहारी होते हैं

बिना मुर्गे के संपर्क के आए, मुर्गी जो अंडे देती है उनसे चूजे नहीं निकलते। वैज्ञानिकों की भाषा में इसे अनफर्टिलाइज्ड एग कहते हैं। ये शाकाहारी होते हैं।

ऐसे अंडे मांसाहारी होते हैं

मुर्गी जो अंडा मुर्गे के संपर्क में आने के बाद देती है, उसे मांसाहारी माना जा सकता है। इन अंडों में गैमीट सेल मौजूद होते हैं, जिनसे चूजे निकलते हैं। ये नॉन वेज होते हैं।

कैसे पहचानें कौन सा अंडा शाकाहारी और कौन मांसाहारी?

बाजार में जो अंडे बिकते हैं, वे फार्म में बनते हैं। किसान वैसे ही अंडे बेचते हैं, जिनमें से चूजे नहीं निकल सकते। जिन अंडों से चूजे निकलने की संभावना होती है, वे उसे फार्म में ही रखते हैं ताकि मुर्गा या मुर्गी की संख्या बढ़ सके।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement