Akshay Kumar Appears for Fund Collection for Pulwama Attack Martyr Families

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

भारत में एक ऐसा भी गांव है जहां 100 साल से लोगों ने होली नहीं मनाई है। होली आते ही इस गांव में सन्नाटा पसर जाता है, जैसे कोई मातम छाया हुआ हो। इस गांव का नाम दुर्गापुर है, जो झारखंड के बोकारो में पड़ता है। कहा जाता है कि इस गांव में लोग होली पर रंग नहीं खेलते, क्योंकि उनका मानना है कि ऐसा करने से गांव में भयंकर महामारी और आपदा आ सकती है।

भूतिया है गांव!

कहा जाता है कि 9 हजार की आबादी वाले इस गांव में लोग अपने मर चुके राजा के आदेशों का अभी भी पालन करते हैं और इस डर से सहमे हुए रहते हैं कि उन्होंने राजा की आज्ञा नहीं मानी तो उनका भूत गांव में आकर तबाही मचा देगा। इस गांव में एक कहानी प्रचलित है। लोग कहते हैं कि 100 साल पहले दुर्गापुर नामक इस गांव में दुर्गा प्रसाद नाम के एक राजा का शासन था। उन्हें होली का त्योहार बेहद पसंद था, लेकिन एक रोज होली के दिन ही राजा के बेटे की मौत हो गई।

होली का त्यौहार मनाना वर्जित

उसके बाद से गांव में जब भी होली का त्योहार मनाया जाता था, वहां या तो सूखा पड़ जाता था या महामारी फैल जाती है, जिसमें सैकड़ों लोग मारे जाते थे। महामारी से तंग आकर राजा ने समस्त प्रजा को होली का त्योहार न मनाने का आदेश दे दिया। लेकिन कुछ सालों के बाद इत्तेफाक से उस राजा की भी मौत होली के दिन ही हो गई। उसके बाद से ही यहां होली का त्योहार न मनाने की एक परंपरा बन गई, जो अब तक चली रही है। उनका मानना है कि अगर राजा के आदेश की अवहेलना की तो उनका भूत आकर गांव में तबाही मचा देगा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement