Watch Making of Dilbar Song From Satyameva Jayate

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

समाज में महिलाएं तमाम तरह की बंदिशों में कैद हैं और इस रेस में जापान एक कदम और आगे बढ़ गया है। दरअसल, जापान की कंपनियों ने वूमन कर्मचारियों को निर्देश दिया है कि वे प्रेगनेंट होने से पहले बॉस की आज्ञा लें। निर्देश के अनुसार, महिला कर्मचारियों को शादी करने या प्रेग्नेंट होने से पहले कंपनी की अनुमति लेनी होगी।

 

यह मामला तब सामने आया जब नर्सरी में काम करने वाली एक महिला कर्मचारी के पति ने इस बात का खुलासा किया कि उसकी पत्नी को उसका बॉस इसलिए ताने दे रहा है, क्योंकि वह प्रेगनेंट हो गई। इतना ही नहीं उस महिला कर्मचारी को प्रेग्नेंट होने की वजह से अपने बॉस से माफी भी मांगनी पड़ी।

पति ने जिस चाइल्ड केयर सेंटर में उसकी पत्नी काम करती है वहां के और कर्मचारियों के साथ हो रहे बुरे बर्ताव के बारे में कई जानकारी दी हैं। उसने बताया कि उसकी पत्नी कार्य करती है वहां के सभी कर्मचारियों को ये तुगलकी फरमान दे रखा है कि, किसी भी कर्मचारी को शादी करने और प्रेगनेंट होने से पहले इजाजत लेनी होगी।

 

कंपनी के नियम के अनुसार वरिष्ठता के हिसाब से यह तय किया जाता है कि कौन सा कर्मचारी पहले शादी करेगा। इस बात का खुलासा करने वाले शख्स ने बताया कि मुझे और मेरी पत्नी को इसके लिए माफी मांगनी पड़ी कि बिना मंजूरी के वो गर्भवती हो गई। डायरेक्टर ने बहुत गुस्सा करने के बाद हमारी माफी मानी, मगर उसके अगले दिन से ही वह मेरी पत्नी को ताने दे रहा है।

इस मामले के सामने आने के बाद और भी कई महिलाओं ने आपबीती सुनाई। 26 साल की, जोकि टोक्यो की एक कॉस्मेटिक्स कंपनी में काम करती है। जोकि और उसके साथ काम करने वाली बाकी 22 वूमन कर्मचारियों को कंपनी को ई-मेल भेजकर अपनी शादी और गर्भवती होने की जानकारी देनी पड़ी, लेकिन बात सिर्फ इतनी ही नहीं है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि जानकारी देने के बाद इस महिला कर्मचारी को सुपरवाइजर ने कहा कि वह 35 साल तक गर्भवती होने का इंतजार करें।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll