Actor Arshad Warsi on Total Dhamaal

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

इंडोनेशियाई लोग अपने परिवार और दोस्तों को सभी चीजों से सर्वोपरि मानते हैं, इसलिए बड़ों के लिए सम्मान और छोटों के प्रति प्यार उनके व्यवहार में नज़र आता है। इसके अलावा वहां के लोग सरल जीवन जीने में विश्वास रखते हैं। दूसरों से मिलने के दौरान भी वह शिष्टाचार का पूरा ध्यान रखते हैं और कुछ बातों का खास ख्याल रखते हैं।

 

विशेषत: किसी की तरफ तर्जनी उंगली दिखाना या तर्जनी उंगली दिखाकर बात करना उनके शिष्टाचार के खिलाफ माना जाता है। इंडोनेशियाई लोग इसे बड़ों के प्रति अपमान के नजर से देखते हैं। अगर आपको इशारों में कुछ समझाना भी है, तो आप उंगली की जगह अंगूठे का प्रयोग कर सकते हैं। इतना ही नहीं, यह उनके शिष्टाचार का महत्वपूर्ण अंग भी है। वह इस बात का ख्याल रखते हैं कि सामने वाले का अनादर न हो, इसलिए वह शालीनता से बात करते हैं।

इसके अलावा बात करते हुए वह इस बात का भी ध्यान देते हैं कि हाथ मिलाकर सिर को हिलाया जाए, इसे वह अनुमोदन का संकेत मानते हैं। किसी से मिलने के दौरान हाथ मिलाकर “सलामत पागी” कहते हैं, जिसका मतलब होता है “गुड मॉर्निंग”'। सलामत सियांग का मतलब गुड डे होता है। वहीं दिन के दौरान किसी से मिलने पर सलामत सोरे कहा जाता है। यहां “सोरे” का मतलब दोपहर होता है, जिसे अंग्रेजी में आप “गुड आफ्टरनून” कहते हैं। वहीं रात में “सलामत मालाम” कहा जाता है। इंडोनेशिया में चाहे कोई छोटा हो या बड़ा शिष्टाचार हर किसी के लिए महत्वपूर्ण होता है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement