Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

बेटी की लव मैरिज पर एक बाप ने पूरे गांव के सामने ऐसा पाप कर डाला जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती। ये घटना है मध्य प्रदेश के एक छोटे से गांव की जो अलीराजपुर जिले में है। दरअसल, हुआ यूं था कि बेटी ने गांव में ही प्रेम विवाह कर लिया था जिस बात से नाराज होकर पिता और उसके भाइयों ने अपनी बेटी और दामाद को बंधक बना लिया। इसके बाद उनके साथ जो किया गया वो जानकर किसी की भी रूह कांप उठेगी।

 

अर्धनग्न कर प्रेमी जोड़े को मूत्र पिलाया गया

दोनों को पहले खूब मारा पीटा गया। जब मन इतने से भी नहीं भरा तो उन्होंने बेटी को सबके सामने अर्धनग्न कर दिया। बेटी के प्रेम विवाह को शर्मनाक काम कहने वालों को तब यह हरकत शायद शर्मनाक महसूस नहीं हुई होगी। इतना ही नहीं उन्होंने लड़की के बाल काट डाले और फिर सारी हदों को पार करते हुए दोनों को मूत्र पिलाया गया। यह घटना 25 जुलाई की है। पुलिस के सामने जब ये मामला पहुंचा तो वह भी हैरान रह गए। मामला दर्ज कर इस सिलसिले में पुलिस ने दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। इसके बाद उन्हें न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चार आरोपियों की तलाश जारी है।

ये है मामला

पुलिस के अनुसार हरदासपुर गांव में तकरीबन डेढ़ साल पहले सरपंच दुरबाई और भाजपा नेता केरमसिंह की पुत्री नानकीबाई (19) ने गांव के 21 वर्षीय हितेश नामक लड़के से प्रेम विवाह कर लिया। दोनों के खिलाफ परंपरानुसार पंचायत बैठी और उसमें लेनदेन हो गया। इसके बाद पति-पत्नी मजदूरी करने गुजरात चले गए। बीती 24 जुलाई को दिवसा पर्व (नई फसल आने पर उत्सव) मनाने के लिए दोनों गांव लौटे और खाना खाकर चाचा राधुसिंह के घर पर सोने चले गए। 25 जुलाई को सुबह करीब चार बजे लड़की के पिता केरम सिंह पुत्र जुवानसिंह अपने कुछ भाइयों और उनके बच्चों के साथ बंदूक लेकर आ धमके और नानकी व उसके पति हितेश को गाली-गलौज करते हुए अपने घर ले गए। पहले सबने मिलकर हितेश को खंभे से बांध दिया और फिर उसके साथ मार पीट की।

 

उन्होंने नानकीबाई को अर्धनग्न कर पिटाई की और उसके बाल काट दिए। इतने पर भी आरोपितों का गुस्सा शांत नहीं हुआ तो उन्होंने बेटी-दामाद को मूत्र भी पिलाया। बाद में उन्होंने दोनों को यह कहते हुए छोड़ दिया कि उन्होंने अपनी इज्जत जाने का बदला ले लिया है। बाद में सूचना मिलने पर मौक पर पुलिस पहुंची तो दोनों को कैद से छुड़ाया गया।

पीड़िता नानकीबाई ने बताया कि आदिवासी परंपरा के अनुसार प्रेम विवाह के बदले वधुमूल्य के रूप में 70 हजार रुपए और दो बकरे दे दिए थे। इसके बावजूद मेरे मायके वालों ने मारपीट कर पेशाब पिलाई। हितेश ने बताया कि परम्परानुसार समझौता होने के बाद उम्मीद नहीं थी कि उनके साथ ऐसा बर्ताव होगा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement