Box Office Collection of Dhadak and Student of The Year

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

क्या कभी आपके साथ ऐसा हुआ है जब किसी गाने को सुनने से आपके दिल की धड़कनें तेज हो गई हों? आपके रोंगटे खड़े हो गए हों या आपकी आंखों पुतलियां पूरी खुल गई हों? अगर हां, तो आप आम लोगों से अलग हैं। हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में हाल ही में हुई रिसर्च में सामने आया है कि गानों को सुनकर हटकर अहसास करने वाले लोगों का दिमाग दुनियाभर के आम लोगों से ज्यादा ताकतवर होता है।

क्या कहती है रिसर्च?

यूनिवर्सिटी की ओर से रिसर्च करने वाले Matthew Sachs ने बताया कि ऐसे लोगों के शरीर में फाइबर की मात्र अत्याधिक होती है जो साउंड को दिमाग तक पहुंचाकर फीलिंग्स का अहसास कराती है। इस वजह से गानों को सुनकर इन लोगों का दिमाग और भी ज्यादा बेहतर रिएक्ट करता है। ऐसे लोग बेहद कम होते हैं जो संगीत के माध्यम से अपने शरीर की रिकवरी करने के साथ-साथ कई मानसिक बीमारियों से भी बच जाते हैं।

कई बीमारियों से बचाएगा संगीत

रिसर्च में दावा किया गया है डिप्रेशन और कई तरह की मानसिक बीमारियों से ग्रस्त लोगों का संगीत के जरिए इलाज किया जा सकेगा। ऐसा भी माना जा रहा है कुछ खास तरह की धुन और संगीतों की भी पहचान की जाएगी जो मानसिक बीमारियों से बचाने में मदद करेंगे।

चीन में म्युजिक को माना गया है दवा

प्राचीनकाल में लिखे गए चीनी ग्रंथों में भी संगीत को दवा का दर्जा दिया गया है। यहां तक की चीनी लेखन में दवा (Medicine) शब्द की उत्पत्ति संगीत (म्युजिक) शब्द से हुई है।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll