Swara Bhaskar Speaks on Her Disabilities

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

मिस्त्र के एलेक्जेंड्रिया में एक गधे की वजह से ऐसी “रहस्यमयी दुनिया” सामने आ गई, जिसे देखकर लोग हैरान हो गए। लोगों को लगता था कि यह राज हमेशा के लिए खो चुका है, लेकिन एक गधे ने इस रहस्य से पर्दा उठा दिया। दरअसल, स्थानीय लोगों का मानना है कि रास्ते में चलते-चलते अचानक एक गधा गड्ढे में गिर गया, जिसे बाहर निकालने के लिए गधे के मालिक ने गड्ढे को और खोदना शुरू किया। इस दौरान उसे गड्ढे में एक बड़ा सा छेद दिखा। उसने छेद को बड़ा किया तो अंदर का नजारा देख उसके होश उड़ गए।

गधे के मालिक ने एक ऐसे मकबरे की खोज कर दी थी, जो सालों से दुनिया से छिपी हुई थी। इस मकबरे का नाम है कोम एल शोकाफा का मकबरा। स्थानीय लोगों के मुताबिक, कोम एल शोकाफा का मकबरा हमेशा के लिए खो चुका था, लेकिन आखिरकार इसकी खोज वर्ष 1900 में हुई। पुरातत्वविदों ने जब इस मकबरे की सच्चाई जानने के लिए खुदाई शुरू की तो पता चला कि यह मकबरा ग्रीको-रोमन दौर का सबसे बड़ा कब्रिस्तान रहा था, जिसका निर्माण दूसरी शताब्दी में कराया गया था।

 

पुरातत्वविदों को इस मकबरे के बारे में यह भी पता चला कि यहां पहले सिर्फ एक ही परिवार के लोगों को शवों को दफनाया जाता था, लेकिन बाद में इस परंपरा को बदल दिया गया और दूसरे लोगों के भी शवों को दफनाया जाने लगा। बताया जाता है कि यहां दफनाए गए कई शव आज भी सुरक्षित हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement