Home Jara Hat Ke Doctors Found Alive Lizard In The Operation Of Ear

शपथ ग्रहण समारोह में सोनिया, राहुल, ममता, मायावती, अख‍िलेश मौजूद

शपथ ग्रहण समारोह: अख‍िलेश यादव ने ममता बनर्जी के पैर छुए

कर्नाटक: शपथ लेने के बाद शाम 5:30 बजे KPCC जाएंगे जी परमेश्वर

शपथ ग्रहण समारोह: तेजस्वी यादव ने ममता बनर्जी के पैर छुए

शपथ ग्रहण समारोह: ममता बनर्जी ने सीएम कुमारस्वामी को गुलदस्ता भेंट क‍िया

जब कान के अंदर मिली जिंदा छिपकली...

jara-hat-ke | Last Updated : 2017-08-22 14:36:13


Doctors Found alive Lizard in the Operation of Ear


दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

इंसानों के सेंस ऑर्गन काफी सेंसटिव होते हैं। इनमें कोई भी फाल्ट आम जिंदगी पर बहुत ही गहरा प्रभाव डालती है। शायद यही वजह है की डॉक्टर्स हिदायत देते हैं कि इन ओर्गंस के साथ छेड़-छाड़ काफी महंगी पड़ सकती है लेकिन फिर भी लोग इन ओर्गंस को लेकर सीरियस नहीं रहते हैं और ना ही इसका इलाज सही समय से कराते हैं। ऐसा ही कुछ हुआ चीन में।        

   

साउथ चीन के गुआंगजौ (Guangzhou) क्षेत्र में 30 साल के एक शख्स को कान में अचानक तेज खुजली होने लगी। आखिरकार, परेशान होकर दिखाने के लिए वो डॉक्टर्स के पास पहुंचा। लेकिन, डॉक्टर ने जो खुलासा किया उससे सब शॉक्ड रह गए। दरअसल, उसके कान में एक जिंदा छिपकली मौजूद थी।

हक्का-बक्का हो गया शख्स   

 

पीड़ित शख्स के नाम का खुलासा नहीं किया गया है। एक वेबसाइट के मुताबिक, शख्स रात को जब सोया था तो उसकी स्थिति सामान्य थी। लेकिन, सुबह उठते ही उसके कान में खुजली शुरू हो गई, जो लगातार बढ़ती ही जा रही थी। उसे शक हुआ कि सोने के दौरान रात में कोई कीड़ा कान के अंदर चला गया हो गया। बिना देरी किए वो तुरंत हॉस्पिटल पहुंच गया, जहां टू बो (Tu Bo) नामक डॉक्टर ने उसका चेकअप करने के बाद जो खुलासा किया तो सब शॉक्ड रह गए।

टू बो के मुताबिक, उसके कान में एक जिंदा छिपकली घूम रही थी। उन्होंने फौरन इंजेक्शन देकर उस छिपकली को बेहोश कर दिया ताकि वह उस आदमी के दिमाग तक न पहुंच पाए। इसके बाद बिना देरी किए उसके कान से उस छिपकली का बाहर निकाला। उनका कहना था कि अगर थोड़ी देरी और हो जाती तो छिपकली उसके दिमाग तक पहुंच सकती थी और उसकी जान को भी खतरा हो सकता था। हालांकि, टू बो का यह भी कहना था कि उस छिपकली की पूंछ नहीं थी।

पहले तो उन्हें शक हुआ कि पूंछ कहीं कान के अंदर ही तो नहीं छूट गई, इसलिए उन्होंने एक बार फिर उसके कान का चेकअप किया लेकिन पूंछ नहीं मिली। उन्होंने संभावना जताई कि शायद कान में घुसने से पहले ही छिपकली अपना पूंछ गंवा चुकी होगी। दो दिन तक हॉस्पिटल में रहने के बाद शख्स को डिस्चार्ज कर दिया गया और अब वो पूरी तरह से ठीक है।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...