Disha Patani Speaks on Salman Khan for Bharat

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

इन दिनों कुछ लोग फेसबुक पर हरे रंग के चांद की तस्वीरें अपनी आइडी पार पोस्ट कर रहे हैं। दावा किया जा रहा है कि 20 अप्रैल को चांद हरे रंग का हो जाएगा क्योंकि इस दिन सोलर सिस्टम का सातवां ग्रह वरुण (यूरेनस) धरती के चांद के काफी करीब पहुंच जाएगा। साथ में यह भी कहा जा रहा है कि यह दुर्लभ संयोग पूरे 420 सालों बाद बन रहा है लेकिन सच्चाई यह है कि चांद के हरे होने की बात सिर्फ एक अफवाह है।

दरअसल, इस “ग्रीन मून” के फर्जी दावे की शुरुआत साल 2016 में हुई थी जब कहा गया कि 29 मई को चांद हरे रंग को होगा। उस रात वैसा कुछ भी नहीं हुआ और इस बार भी ऐसा कुछ नहीं होने वाला है। इसलिए, अगर आपका कोई दोस्त ऐसी अफवाहों को बढ़ावा देता है तो फौरन उसे अनफ्रेंड कर दें।

इसी बहाने आपको फेसबुक की फ्रेंडलिस्ट की साफ-सफाई का बहाना भी मिल जाएगा और बेकार लोगों से छुटकारा भी। हरे चांद के दावों के साथ यह भी कहा जा रहा है कि ऐसी घटना 420 सालों बाद होने जा रही है। पर सच्चाई यह है कि “420” एक कोड है जिसका मतलब “भांग” या “वीड” होता है। चरस-गांजा का सेवन करने वाले लोग 4/20 यानी 20 अप्रैल को “स्पेशल कैनबिस-स्मोकिंग डे” के तौर पर मनाते हैं। तो कुल मिलाकर जिसने भी यह हरे चांद वाली अफवाह फैलाई है, उसने पक्का भांग खाकर ऐसा काम किया होगा और आपकी फिरकी लेने की कोशिश कर रहा है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement