Home Jara Hat Ke A Zoo Where Humans Were Trapped Not Animals

करणी सेना का दावा, संजय लीला भंसाली ने "पद्मावत" देखने का भेजा न्यौता

MLA ने एक रुपया भी सैलरी नहीं ली: मनीष सिसोदिया

पुंछ: पाक सीजफायर उल्लंघन के चलते बंद किए गए 120 स्कूल

बिना सबूत EC ने कैसे दिया MLAs को अयोग्य घोषित करने का सुझाव: सिसोदिया

अब CJI जस्टिस दीपक मिश्रा खुद करेंगे लोया मौत केस की सुनवाई

एक ऐसा चिड़ियाघर जहां जानवर नहीं, इंसान होते थे कैद..

Jara Hat Ke | 29-Jul-2017 | Posted by - Admin

   
A Zoo Where Humans Were Trapped Not Animals

दि राइजिंग न्यूज़

एंटरटेनमेंट डेस्क। 

आज तक आपने चिडिय़ाघर में जानवरों को देखा होगा। लेकिन अगर हम कहें कि दुनिया में एक ऐसा चिड़ियाघर भी था जिसमें लोग जानवरों को नहीं, बल्कि इंसानों को देखने आते थे तो? जी हां, 19वीं सदी में यूरोप में ऐसे कई चिड़ियाघर बनाए गए थे, जिनमें इंसानों को बंदी बना कर प्रदर्शनी के लिए रखा जाता था। 


यूरोप में कई जगहों पर मानव चिड़ियाघर खोले गए थे। यहां अमीर लोगों के मनोरंजन के लिए आदिवासी लोगों को पिंजरे में प्रदर्शनी में रखा जाता था। महिलाओं को बिना कपड़ों के खड़ा किया जाता था।

कई चिड़ियाघरों में उन्हें जानवरों एक साथ बंद करके भी रखा जाता था। अमीरों के मनोरंजन के लिए इन आदिवासियों को नाचना-गाना भी पड़ता था। फ्रांस से लेकर बेल्जियम तक ऐसे चिड़ियाघर मौजूद थे।

 

जब इन मानव चिड़ियाघरों की आलोचना होने लगी तब मानव अधिकारों के नए युग का उदय हुआ और इस असहनीय मानवीय त्रासदी का अंत हुआ।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555







Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news