Crowd Rucuks At Sapna Chaudhary Program in Begusaray of Bihar

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

अंटार्कटिका महाद्वीप का नाम आते ही सबसे पहले याद आता है की पूरी दुनिया में वहीं एक ऐसा स्थान है जहां 6 महीने रात और 6 महीने दिन होता है। बर्फ से ढके और 0 डिग्री सेंटीग्रेड के नीचे तापमान वाला यह स्थान कई रहस्यों से घिरा रहा है। क्या कभी कोई सोच सकता है की वहां कभी विकसित मानव सभ्यता हुआ करती थी? यह सवाल चौंकाने वाला है, लेकिन यह सच है कि हजारों साल पहले अंटार्कटिका महाद्वीप में मानव सभ्यता थी और वहां के निवासी अन्य मानव सभ्यताओं से आगे थे। तो चलिए आपको अंटार्कटिका महाद्वीप के बारे में कुछ जानकारी देते हैं:-

  • यहां पर कुछ जगह ऐसी भी है जहां पिछले 20 लाख साल से ना तो बर्फ पड़ी और ना ही बारिश हुई। अंटार्कटिका महाद्वीप यूरोप से 1.3 गुणा बड़ा हैं।
  • अंटार्कटिका महाद्वीप दुनिया का सबसे बड़ा धुर्वीय रेगिस्तान हैं। यहां का 1% से भी कम हिस्सा ऐसा भी हैं जिस पर कभी बर्फ नहीं पड़ी।
  • अगर आपको यहां पर काम करना है, तो सबसे पहले आपको अपने दांत और अपेंडिक्स को निकलवाना पड़ेगा, भले ही वो एकदम स्वस्थ ही क्यों न हों।
  • आज तक यहा पर सबसे ज्यादा तापमान 58.2°F यानी 14.5°C रिकॉर्ड किया गया हैं। करीब 53 लाख साल पहले यह बहुत गर्म स्थान था, इतना गर्म कि इसके किनारों पर खजूर के पेड़ आसानी से उग जाते थे। यहां का तापमान उस समय 20°C से ज्यादा हुआ करता था।

  • यह दुनिया का सबसे शुष्क स्थान है। इतना ही नहीं पूरी पृथ्वी का सबसे शुष्क स्थान भी यहां पर ही है, जिसे “Dry Valleys” कहा जाता हैं।
  • यहां पर एक न्यूक्लियर पॉवर स्टेशन भी है जिसका नाम McMurdo Station। यह पावर स्टेशन साल 1962 से यहां चल रहा हैं। यहां पर आपको एक भी पोलर बियर नहीं मिलेगा, क्योंकि वो सिर्फ आर्कटिक में रहते हैं।
  • 21 जुलाई, 1983 में अंटार्कटिका के Vostok station पर अभी तक धरती का सबसे कम तापमान -128.56°F रिकॉर्ड किया गया था।
  • यहां की बर्फ की औसतन मोटाई लगभग 1.6 किलोमीटर हैं और आपको जानकर हैरानी होगी कि धरती का 90% साफ पानी यही पर हैं लेकिन बर्फ के रूप में।
  • आपको शायद यकीन ना हों लेकिन यहां पर एक एटीएम भी हैं। आज तक पाए गए 90% उल्कापिंड अंटार्कटिका से आए हैं।
  • यहां पर कुछ जगहों पर 320KM/H की स्पीड से हवा चलती हैं। नार्वे के Roald Amundsen पहले आदमी थे, जो सबसे पहले दक्षिण ध्रुव तक पहुंच पाये थे।

  • इसके अस्तित्व के बारे में किसी को पता न चलता, अगर साल 1820 में इस महाद्वीप को देखा न जाता। पहले लोगों को लगता था कि यह सिर्फ द्वीपों का एक समूह हैं।
  • धरती पर केवल अंटार्कटिका ही ऐसा महाद्वीप हैं, जहां सांप बिल्कुल भी नहीं पाए जाते हैं। अंटार्कटिका ही केवल ऐसा महाद्वीप हैं जहां कोई टाईम जोन नहीं हैं।
  • साल 1994 के बाद हस्की कुत्तों को यहां पर बैन कर दिया था। जनवरी 1979 में Emile Marco Palma नाम की महिला दुनिया के सबसे आखिरी दक्षिणीछोर पर जन्म लेने वाली पहली इंसान बनी। ये अर्जेंटीना द्वारा खुद को अंटार्कटिका का हिस्सा बनाने का एक प्रयास था। अर्जेंटीना ने एक गर्भवती औरत को यहां इसीलिए भेजा था।
  • आज तक का सबसे पुराना स्पर्म अंटार्कटिका में मिला है। यह स्पर्म एक कीड़े का है, जो 50 Million साल पुराना हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement