Sooraj Pancholi to donate his earnings from satellite shankar to army

 

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क

 

साल 2019 में 3 बार सूर्य पर ग्रहण लगेगा। इनमें सबसे पहला सूर्य ग्रहण साल के पहले महीने 6 जनवरी रविवार को लगने वाला है। भारतीय समय के अनुसार यह प्रातः 05:04 पर शुरू होगा। इसका समापन प्रातः 09।18 पर होगा। इस ग्रहण की कुल अवधि लगभग 04 घंटे 14 मिनट की होगी। यह ग्रहण धनु राशि और पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में होगा। यह आंशिक सूर्य ग्रहण होगा और भारत में दिखाई नहीं देगा। इसलिए सूतक संबंधी नियमों का पालन करने की जरूरत नहीं है।

सूर्य ग्रहण का सामान्य प्रभाव क्या है?

इस ग्रहण में सूर्य का संयोग शनि बुध और चंद्र से बनेगा। सूर्य शनि और चंद्र का प्रभाव होने से दुर्घटनाओं की संभावना बन सकती है। साथ ही राजनैतिक रूप से भयंकर उथल पुथल होने की भी संभावना है। इस ग्रहण प्रभाव लगभग एक पक्ष तक बना रह सकता है। ग्रहण के दौरान कुछ काम करना वर्जित माने जाते हैं। इसलिए ग्रहण लगने के दौरान भूलकर भी ये काम न करें।

सूर्य ग्रहण के दौरान न करें ये काम-

  • गर्भवती महिलाओं को ग्रहण की छाया से बचने की सलाह दी जाती है। मान्यता है कि ग्रहण की छाया का प्रभाव गर्भ में पल रहे शिशु पर पड़ने से शिशु को नुकसान पहुंच सकता है।

  • ग्रहण के समय भोजन और पानी का सेवन नहीं करना चाहिए। कई शोध में इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि ग्रहण के समय व्यक्ति की पाचन शक्ति बहुत कमजोर हो जाती है। ऐसे में भोजन करने से व्यक्ति के बीमार पड़ने की अधिक संभावना रहती है।

  • ग्रहण के दौरान किसी भी शुभ काम की शुरुआत करने से उस काम में असफलता ही मिलती है। इसलिए ग्रहण लगने पर कोई भी शुभ काम न करें।

  • ग्रहण के दौरान बालों में कंघी, दांतों की सफाई और नाखून काटना अशुभ माना जाता है। 

  • ग्रहण के दौरान पूजा, उपासना को भी रोक दिया जाता है। यही कारण है कि ग्रहण के दौरान कई मंदिरों के कपाट बंद कर दिए जाते हैं।

  • ग्रहण लगने के दौरान कभी भी सोना नहीं चाहिए।

  • ग्रहण के दौरान किसी भी तरह की सिलाई-कढ़ाई का काम नहीं करना चाहिए।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement