सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत श्रीनगर पहुंचे, हालात की समीक्षा की

पंजाब: मनसा में सड़क दुर्घटना में 6 लोग मारे गए

अयोध्या में सरयू तट पर आरती में शामिल होंगे सीएम योगी

अयोध्या के रामकथा पार्क पहुंचे यूपी सीएम योगी

सैनिकों को अब सैटेलाइट फोन पर प्रति कॉल 1 रुपया ही चार्ज देना होगा

Trending :   #Hot_Photoshot   #Sports   #Politics   #Hollywood   #Bollywood
   

रेलवे किराए में छूट बंद करना चाहती है आइआरसीटी

Senior Citizen | 28-Jun-2016 12:52:11 PM
    -सभी मिलने वाली 55 तरह की रियायते होंगीं बंद

   -रेलमंत्रालय के निशाने पर सबसे पहले बुजुर्ग यात्री

   -अगर आप न लेना चाहे छूट तो अभी मिल रहा विकल्‍प



दि राइजिंग न्‍यूज

रेल मंत्रालय किरायों में मिलने वाली सब्सिडी के बाद अब रियायती टिकटों पर नजर लगा रही है। इसके लिए आइआरसीटी ने एक प्रपोजल भेजा है जिसमें यात्रा किराए में बुजुर्गों को मिलने वाली पचास फीसद रियायत को खत्‍म करने की बात कही गई है। रेल मंत्रालय के अनुसार ऐसा प्रपोजल मिला है। इस पर फैसला हो चुका है। अधिकारियों का कहना है कि बहुत संभव है कि रेलवे इस छूट को वापस ले लेगी। फिलहाल अभी विकल्‍प दिया जा रहा है कि अगर आप छूट न लेना चाहे तो उसको आरक्षण फार्म पर भर दें।


सब्सिडी का भारी बोझ कम करने के लिए भारतीय रेलवे अब वरिष्ठ नागरिकों को आरक्षित वर्ग के टिकटों की खरीद पर मिलने वाली रियायत छोड़ने का विकल्प दे रहा है। रेलवे ने वरिष्‍ठ नागरिकों को किराए में मिल रही सब्सिडी छोड़ने का विकल्‍प देने का फैसला किया है। सब्सिडी का भारी बोझ कम करने का तर्क देकर उठाए गए इस कदम से वरिष्ठ नागरिकों को आरक्षित वर्ग के टिकटों की खरीद पर मिलने वाली रियायत छोड़ने का विकल्‍प दिया जाएगा। इसके अलावा रेलवे ने ट्रेन के सफर पर होने वाला असली खर्च टिकट पर मुद्रित करना शुरू कर दिया है ताकि यात्रियों को रेलवे से मिलने वाली सब्सिडी की जानकारी मिले।


पिछले वित्त वर्ष में रेलवे को सब्सिडी पर 1600 करोड़ की धनराशि खर्च करनी पड़ी थी। इनमें वरिष्ठ नागरिकों, खेल पुरस्कार विजेताओं और कैंसर मरीजों सहित अन्य को दी जाने वाली सब्सिडी की राशि शामिल है। इस समय 55 श्रेणी के यात्री ट्रेन टिकट की खरीद पर रियायत हासिल करने की पात्रता रखते हैं।



रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सब्सिडी पर सबसे ज्यादा खर्च वरिष्ठ नागरिकों की श्रेणी में होता है। पिछले साल केवल इस श्रेणी के लिए रेलवे को 1100 करोड़ रुपए की सब्सिडी देनी पड़ी थी। वरिष्ठ नागरिकों की श्रेणी के तहत महिला यात्रियों को 50 जबकि पुरुष यात्रियों को 40 प्रतिशत रियायत दी जाती है। इस श्रेणी के तहत रियायत हासिल करने के लिए महिलाओं की उम्र कम से कम 58 जबकि पुरूषों की उम्र 60 साल होनी चाहिए।


पहले टिकट लेते समय उम्र भरने पर यात्रियों को स्वत: रियायत मिल जाती थी लेकिन अब उनके पास रियायत छोड़ने का विकल्प है। अधिकारी ने कहा अब यात्रियों को टिकट खरीदने से पहले एक विकल्प दिया जा रहा है। अगर कोई वरिष्ठ नागरिकों को मिलने वाली रियायत नहीं लेना चाहता है और पूरा किराया देने के लिए तैयार हैं तो ऐसा कर सकता है। इसके अनुरूप सॉफ्टवेयर में बदलाव किया गया है।


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555


संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...





What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


Photo Gallery
अब कब आओगे मंत्री जी । फोटो- अभय वर्मा

Flicker News



Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news



rising news video

खबर आपके शहर की