Golmal Starcast Will Be in Cameo in Ranveer Singh Simba

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा भारत में 4.9 अरब डॉलर जमा कराने की खबरों को विश्व बैंक ने गलत बताया है। शरीफ के मनी लांड्रिंग में शामिल होने की खबरें पिछले कुछ दिनों से मीडिया में चल रही हैं। इसके बाद पाकिस्तान की भ्रष्टाचार रोधी संस्था, राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो ने शरीफ के खिलाफ मंगलवार को जांच के आदेश दे दिए।

 

अपने बयान में विश्व बैंक ने कहा कि उनके “रेमिटेंस एंड माइग्रेशन रिपोर्ट ऑफ 2016” का उल्लेख करते हुए मीडिया में कुछ रिपोर्ट्स चल रही हैं। ये गलत हैं। रिपोर्ट में ना तो किसी मनी लांड्रिंग का जिक्र है और ना ही किसी व्यक्ति विशेष का।

वहीं प्रधानमंत्री शाहिद खाकन अब्बासी ने संसद में पाकिस्तान विरोधी भ्रष्टाचार इकाई के प्रमुख पर बरसते हुए कहा कि भारत में 4.9 खरब डॉलर के कथित मनीलांड्रिंग के लिए पूर्व प्रधानमंत्री शरीफ के खिलाफ जांच की शुरुआत करना चुनाव पूर्व हेराफेरी के दायरे में आता है।

 

राष्ट्रीय जवाबदेह ब्यूरो (एनएबी) के अध्यक्ष रिटायर्ड जस्टिस जावेद इकबाल ने मंगलवार को इस मामले में शरीफ के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं। नेशनल एसेंबली में प्रधानमंत्री अब्बासी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री के खिलाफ एक गंभीर आरोप है।

मौजूदा राजनीतिक माहौल में यह मामला चुनाव पूर्व हेराफेरी के दायरे में है। दो महीने में पाकिस्तान में आम चुनाव होने हैं और एनबीए प्रधानमंत्री के खिलाफ भारत में निवेश का आरोप लगा रहा है। यह हम सभी के लिए शर्मनाक है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement