Home International News Tried To Kidnap Pakistani Journalist In Islamabad

सरकार का उद्देश्य एक है, बड़े-बड़े दावे और जुमले करना: अभिषेक मनु सिंघवी

AAP विधायकों ने EC के फैसले को चुनौती वाली याचिका हाई कोर्ट से वापस ली

ये देश ऐसा नहीं कि कोई सिर काटने की बात करे और कानून मूक बना रहे: आर माधवन

10 अप्रैल को भारत 16वीं अंतर्राष्ट्रीय ऊर्जा मंच बैठक का आयोजन करेगा

ज्यूरिख पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी, कुछ देर में दावोस के लिए होंगे रवाना

इस्लामाबाद: पत्रकार के अपहरण की कोशिश, बुरी तरह पीटा

International | 10-Jan-2018 15:50:44 | Posted by - Admin
   
Tried to Kidnap Pakistani Journalist in Islamabad

दि राइजिंग न्‍यूज

इस्‍लामाबाद।

 

आज इस्लामाबाद में स्थानीय पत्रकार ताहा सिद्दिकी को अगवा करने की कोशिश की गई है। मामले में पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि ताहा को करीब 10-12 हथियारबंद लोगों ने अगवा करने की कोशिश की थी। सिद्दीकी को बुरी तरह से पीटा गया था और जान से मारने की धमकी दी। हालांकि, ताहा को अगवा करने की कोशिश नाकाम गई, वह वहां से भाग निकले।

 

 

 

बुधवार को ताहा सिद्दीकी ने पाकिस्तानी अखबार “डॉन” के पत्रकार साइरल अलमेडा के ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया। उन्होंने ट्वीट किया कि मैं ताहा सिद्दिकी साइरल का अकाउंट इस्तेमाल कर रहा हूं। मैं सुबह 8.20 बजे एयरपोर्ट की तरफ जा रहा था इसी दौरान 10-12 हथियार बंद लोगों ने मेरी कैब को रोका और अगवा करने की कोशिश की। लेकिन मैं वहां से भाग निकला।

 

 

उन्होंने लिखा कि अब मैं पुलिस के साथ हूं और सेफ हूं। मैं आपसे मदद की गुहार करता हूं। बाद में साइरल ने भी ट्वीट कर साफ किया कि वह इस वक्त ताहा के साथ हैं, यह एक तरह का चमत्कार ही है कि वह भाग निकले हैं। उन्हें बुरी तरीके से मारा गया, लोगों को समझना चाहिए की पत्रकारिता को गुनाह नहीं है।

 

 

इस्लामाबाद पुलिस ने भी इस बात की पुष्टि कर बताया कि WION के ब्यूरो चीफ ताहा सिद्दिकी को अगवा करने की कोशिश की गई थी। हालांकि, अब वह पुलिस के साथ हैं।

 

 

आपको बता दें कि बीते साल मई में पाकिस्तान की एफआइए ने सिद्दी को पाकिस्तानी सेना और सरकार के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने की वजह से नोटिस जारी किया था। जिसके बाद सिद्दीकी ने इस्लामाबाद हाईकोर्ट में FIA के खिलाफ उन्हें धमकी भरे फोन करने की शिकायत तौर पर एक पीआइएल दायर की थी। याचिका में सिद्दिकी ने कहा था कि नोमान बोदला जिसने खुद को FIA का सदस्य बताया था, उसने मुझे पोस्ट को लेकर काफी धमकियां दी थीं।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news