Home International News Pakistan Air Marshal Orders To Shoot US Drones

चुनी हुई सरकारों की अनदेखी कर रही है बीजेपी: अरविंद केजरीवाल

दिल्ली: नतीजों से पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बुलाई बैठक

IndVsSri: भारत को जीतने के लिए 216 रनों का लक्ष्य मिला

राजकोट में CM रुपाणी की जीत के लिए जैन समाज के लोगों ने किया हवन

गाजियाबाद: वसुंधरा में 5वीं क्लास के स्टूडेंट से छेड़छाड़ के आरोप में एक अरेस्ट

अमेरिका-PAK में बढ़ी तनातनी...

International | 08-Dec-2017 10:15:26 | Posted by - Admin
   
Pakistan Air Marshal Orders to Shoot US Drones

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

पाकिस्तान और अमेरिका के बीच दरार लगातार बढ़ती जा रही है। अब पाकिस्तानी एयर फोर्स के चीफ सोहेल अमान ने पाकिस्तानी एयरस्पेस का उल्लंघन करने वाले अमेरिकी ड्रोन्स को मार गिराने का आदेश दिया है। पाकिस्तानी एयर फोर्स के चीफ सोहेल अमान ने गुरुवार को अपनी सेना को आदेश दिया है कि पाकिस्तानी एयरस्पेस का उल्लंघन करने वाले किसी भी ड्रोन्स को मार गिरा दें, चाहे वो अमेरिका का ही क्यों न हो?

पाकिस्ता न सीमा से सटे जैसलमेर में मिला ड्रोन

 

यह घोषणा उस समय सार्वजनिक हुई है जब दो हफ्ते पहले अमेरिकी ड्रोन ने अफगान सीमा से लगे पाकिस्तान के ट्राइबल इलाके में एक आतंकी कैंप को निशाना बनाया था। इस ड्रोन हमले में तीन आतंकी मारे गए थे।

 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान ने हमेशा से अपनी धरती पर ड्रोन हमले का विरोध किया है, लेकिन उसने कभी यह कहने जहमत नहीं उठाई कि वो यूएवी को मार गिरा देगा।

इस्लामाबाद में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पाकिस्तान के एयर चीफ मार्शल सोहेल अमान ने कहा, “हम किसी को अपने एयरस्पेस का उल्लंघन नहीं करने देंगे। मैंने पाकिस्तानी एयर फोर्स को ड्रोन्स को मार गिराने का आदेश दिया है। चाहे वो अमेरिका के ही क्यों न हों, अगर वे हमारे एयरस्पेस में प्रवेश करेंगे और देश की संप्रुभता के लिए खतरा बनेंगे, तो मार गिरा देंगे।”

 

बता दें कि अगर पाकिस्तानी एयर चीफ अगर आतंकी ठिकानों पर अमेरिकी मिसाइल अटैक और पाकिस्तानी संप्रभुता की बात कर रहे हैं, तो संप्रभुता का ये उल्लंघन साल 2004 से चल रहा है। 30 नवंबर 2017 तक पाकिस्तान में होने वाले सभी अमेरिकी ड्रोन हमले के लिए सीआईए जिम्मेदार है।

हर अमेरिकी ड्रोन हमले के बाद पाकिस्तान का विदेश मंत्रालय एक निंदा वाला बयान जारी कर देता है कि वो अपनी जमीन पर इस तरह के हमलों की इजाजत नहीं देगा।

 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सैकड़ों नागरिक, जिनमें महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। ड्रोन हमले की चपेट में आ जाते हैं। साथ ही आतंकी समूहों के वरिष्ठ सदस्य भी इन हमलों के शिकार बनते हैं। कई मामलों में ड्रोन हमले में शिकार लोगों की स्थिति का पता भी नहीं चलता है।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news