Ishaan Khattar and Jhanvi Kapoor After Dhadak Success

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

मिस्र में एक वकील को उसी का बयान भारी पड़ा गया। दरअसल, पेशे से वकील नबीह अल वाहश ने कहा था कि फटी जींस पहनने वाली लड़कियों का रेप करना राष्ट्रीय जिम्मेदारी का एक हिस्सा है। कोर्ट ने इसके लिए उसे तीन साल के कारावास में भेज दिया। वकील इससे पहले से विवादों में रहे हैं और उस पर करीब साढ़े 72 हजार रुपए का जुर्माना भी लग चुका है।

 

उन्‍होंने यह बयान अक्टूबर में हुई एक टेलीविजन डिबेट के दौरान दिया था, जिसमें वेश्यावृत्ति पर कानून को लेकर बात हो रही थी। अपने विवादित बयान में वकील ने कहा था, “मैं कहता हूं कि जब कोई लड़की सड़क से गुजरती है, तो उसे सेक्सुअली हैरेस करना और रेप करना राष्ट्रीय जिम्मेदारी बनती है।”

उन्होंने आगे कहा था, “क्या आप सड़क से गुजरती लड़की को देख कर खुश होते हैं, जिसके शरीर के पीछे का हिस्सा दिख रहा होता है? मैं कहता हूं कि जब लड़की इस तरह से चले तो उसे सेक्सुअली हैरेस करना और उसका रेप करना राष्ट्रीय जिम्मेदारी बनती है।” वकील ने आगे यह भी कहा, “जो महिलाएं छोटे कपड़े पहनती हैं, वे पुरुषों को उन्हें हैरेस करने के लिए निमंत्रण देती हैं। ऐसे में अपनी सीमाओं की सुरक्षा करने से ज्यादा अहम सिद्धांतों की रक्षा करना होता है।”

 

मिस्र में वकील के इस बयान के बाद बवाल मचा हुआ है। यहां नेशनल काउंसिल फॉर वीमेन ने इस बाबत टीवी चैनल के खिलाफ शिकायत देने की बात कही है। मिस्र के नेशनल काउंसिल फॉर वीमेन ने इससे पहले नबीह और टीवी चैनल के खिलाफ देश के अटॉर्नी जनरल से शिकायत करने की घोषणा की है। मिस्र के महिला आयोग ने कहा कि वह देश की सर्वोच्च अदालत में टीवी चैनलों पर ऐसे विवादित व्यक्तिों को बुलाने पर रोक लगाने की मांग करेगा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll