Golmal Starcast Will Be in Cameo in Ranveer Singh Simba

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

लेबनान के हिज्बुल्ला नेता ने सऊदी अरब पर उनके देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने का आरोप लगाया है। ये बयान लेबनान के प्रधानमंत्री के इस्तीफे के बाद आया है। लेबनानी प्रधानमंत्री साद अल हरीरी ने सऊदी अरब की राजधानी रियाद से ही अपना इस्तीफा भेजा था।

 

हिज्बुल्ला नेता हसन नसरल्लाह ने कहा कि सऊदी अरब ने हरीरी को जबरदस्ती रोक कर रखा है। उन्होंने ये भी आरोप लगाया कि सऊदी लेबनान के खिलाफ इसराइल को भड़का रहा है।

ताकतवर हिज्बुल्ला शिया आंदोलन को ईरान का समर्थन प्राप्त है, जोकि लेबनान और इस इलाके में तनाव बढ़ाने के लिए सऊदी अरब को जिम्मेदार ठहराता रहा है।शनिवार को हरीरी ने रियाद से एक टीवी प्रसारण में कहा था कि वो अपना पद छोड़ रहे हैं क्योंकि उनकी जान को खतरा है। उन्होंने अपने संबोधन में ईरान और हिज्बुल्ला पर भी निशाना साधा।

 

हालांकि लेबनानी राष्ट्रपति मिशेल आउन और अन्य वरिष्ठ राजनेताओं ने उनसे वापस आने की अपील की है। लेबनान में इस बात की आशंका जताई जा रही है कि हरीरी को सऊदी अरब में घर में नजबंद करके रखा गया है और उनपर दबाव डाला जा रहा है।

लेबनान के राष्ट्रपति ने हरीरी का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है। हालांकि हरीरी ने टीवी पर घोषणा करने के बाद से सार्वजनिक तौर पर कुछ नहीं बोला है।शुक्रवार को टेलीविजन प्रसारण में हिज्बुल्ला नेता नसरल्लाह ने कहा कि सऊदी अरब लेबनान के अंदर लड़ाई-झगड़े को उकसाने की कोशिश कर रहा है।

 

उन्होंने कहा, "संक्षेप में, ये साफ हो गया है कि सऊदी अरब और उसके अधिकारियों ने लेबनान और हिज्बुल्ला के खिलाफ युद्ध छेड़ दिया है, लेकिन मुझे इतना ही कहना है कि ये लेबनान के खिलाफ युद्ध है।"

उन्होंने सऊदी अरब पर ये भी आरोप लगाया कि वो लेबनान पर हमले के लिए इजराइल को अरबों डॉलर देने की तैयारी कर रहा है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement