Home International News Bill Introduced In Us House To End Non Defense Aid To Pakistan

दिल्ली के मुखर्जी नगर में कैदी को हॉस्पिटल ले जाने के दौरान साथियों ने पुलिस बल पर किया हमला

दिल्ली के मुखर्जी नगर में कैदी को छुड़ाने की कोशिश, हमले में एक सिपाही की मौत

मुंबईः पीएनबी घोटाले मामले में तीनों आरोपी सीबीआई कोर्ट पहुंचे

दिल्लीः मुख्य सचिव ने पुलिस में आप विधायकों के खिलाफ केस दर्ज कराई

दिल्लीः मुख्य सचिव ने कहा, आप विधायकों के साथ मारपीट में मेरा चश्मा नीचे गिर गया

US में पाक को गैर-सैन्य मदद न देने वाला बिल पेश

International | 06-Feb-2018 12:00:22 | Posted by - Admin
   
Bill Introduced In Us House To End Non Defense Aid To Pakistan

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

अमेरिकी कांग्रेस में पाकिस्तान को गैर-सैन्य सहायता न दिए जाने वाला बिल पेश कर दिया गया है। बिल पेश करने वाले सांसदों ने कहा कि जो देश आतंकियों को पनाह देता हो, उन्हें मिलिट्री और इंटेलिजेंस मुहैया कराता हो, उसे मदद देने का सवाल ही नहीं उठता। ये भी कहा गया कि पाक को दी जाने वाली मदद को अमेरिका के ही विकास में लगाया जाएगा।

अमेरिकी सरकार का ही विरोध करेगा बिल

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, बिल को साउथ कैरोलिना के सांसद मार्क स्टेनफोर्ड और केंटुकी के सांसद थॉमस मैसी ने पेश किया। ये बिल अमेरिकी विदेश विभाग और यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (USAID) को अमेरिकी टैक्सपेयर्स का पैसा पाकिस्तान भेजने का विरोध करेगा।

 

इस फंड का इस्तेमाल अमेरिका में सड़क बनाने के लिए हाईवे ट्रस्ट फंड को दिया जाएगा। बता दें कि 9/11 हमले के बाद से अमेरिका पाकिस्तान को 34 बिलियन डॉलर (करीब 2 लाख 31 हजार करोड़ रुपए) की मदद दे चुका है, जिसमें 2017 में 526 मिलियन डॉलर (करीब 3382 करोड़ रुपए) दिए गए।

दुनिया जानती है, आतंकियों को पनाह देता है पाक

दोनों सांसदों ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान आतंकियों को केवल पनाह नहीं देता बल्कि उन्हें रिसोर्स भी मुहैया कराता है। मैसी ने कहा कि अमेरिका को ऐसी किसी सरकार को पैसे नहीं देने चाहिए जो आतंकियों की मदद करता हो। हमारे लोगों के करोड़ों डॉलर्स उस देश में इस्तेमाल हों, इसकी बजाय पैसे को अपने देश में ही सड़क-पुल बनाने में लगाना चाहिए।

 

सैनफोर्ड ने कहा कि जब अमेरिकंस किसी दूसरे देश को सपोर्ट करते हैं तो इसका मतलब कतई ये नहीं है कि हमारे पैसे से आतंकियों को इनाम दिया जाए। "अगर सब ठीक रहा तो हाईवे ट्रस्ट फंड 2016 तक 111 बिलियन डॉलर का हो जाएगा। इससे हमारे इन्फ्रास्ट्रक्चर को सुधारने में मदद मिलेगी।''

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news