कुशीनगर के विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी को मिली धमकी

J-K: पाकिस्तान की ओर से फायरिंग में अब तक 6 नागरिक घायल

मद्रास हाईकोर्ट ने तूतीकोरिन में स्टरलाइट प्लांट के विस्तार पर लगाई रोक

दिल्लीः कैबिनेट की बैठक शुरू, तेल की कीमतों पर हो सकता है फैसला

कर्नाटकः शपथ ग्रहण के खिलाफ BJP के विरोध-प्रदर्शन में शामिल हुए येदियुरप्पा

काशी में शिक्षक दिवस की धूम

Events Varanasi | Last Updated : Nov 30, -0001 12:00 AM IST

  • बच्‍चों ने निभाई शिक्षकों की भूमिका
  • शिक्षकों के लिए कई रंगारंग सांस्‍कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन




दि राइजिंग न्‍यूज

05 सितंबरवाराणसी।

देश के दूूसरे राष्‍ट्रपति डॉक्‍टर सर्वपल्‍ली राधाकृष्‍णन का जन्‍मदिन शिक्षक दिवस के रूप में काशी में धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर स्‍कूलों में रंगारंग सांस्‍कृतिक कार्यक्रम के साथ शिक्षकों को सम्‍मानित भी किया गया। शिक्षकों ने आज क्‍लास नहीं लिया बल्कि उनके स्‍थान पर बच्‍चों ने यह भूमिका निभाई। सभी सरकारी और निजी शिक्षण संस्‍थाओं में बच्‍चे तो स्‍कूल गए लेकिन पढ़ाई नहीं हुई। सभी स्‍कूलों में शिक्षक दिवस की धूम रही।


सिगरा स्थित डब्‍ल्‍यूएच स्मिथ मेमोरियलसंजय सिटी मॉडलसनबीनसेंटजोंससेंटमैरी सहित कई स्‍कूल के बच्‍चों में उत्‍साह देखा गया। बच्‍चे अपने साथ पेन व अन्‍य गिफ्ट पैक करावकर स्‍कूल ले गए थे। प्रतिदिन की भांति प्रार्थना सभा हुई। इसके बाद बच्‍चे कक्षा में गए। कक्षा में पहुंचने पर हर बच्‍चे ने अपने शिक्षकों को उपहार देकर सम्‍मानित किया।


बच्‍चों ने पूरे दिन अपनी शिक्षकों के साथ मस्‍ती की 

सिगरा स्थित संजय सिटी मॉडल स्‍कूल में प्रधानाचार्य और शिक्षकों की भूमिका में बच्‍चे थे। आज के दिन शिक्षकों से स्‍कूल में कोई काम नहीं लिया है। बच्‍चों ने पूरे दिन अपनी शिक्षकों के साथ मस्‍ती की। बच्‍चों ने खासकर शिक्षकों के अंताक्षरीम्‍यूजिकल चेयरनृत्‍य प्रतियोगिताआंख बंद कर बिंद प्रतियोगितालंबी कूद आदि खेल प्रतियोगिता का आयोजन भी किया। इसमें शिक्षकों ने बढ़ चढ़कर सहभागिता की। कार्यक्रम की समाप्ति के बाद स्‍कूल के प्रधानाचार्य अजय सिंह की ओर से शिक्षकों को उपहार देकर सम्‍मानित करने के साथ उनके उज्‍ज्‍वल भविष्‍य की कामना भी की गई।


शिक्षक राष्ट्र की संस्कृति के चतुर माली

इस अवसर पर हुई सभा में संजय सिटी मॉडल के प्रधानाचार्य अजय सिंह ने बताया कि शिक्षक राष्‍ट्र की संस्‍कृति के चतुर माली होते हैं। वे संस्कारों की जड़ों में खाद देते हैं और अपने श्रम से सींचकर उन्हें शक्ति में निर्मित करते हैं। इस प्रकार एक विकसितसमृद्ध और खुशहाल देश व विश्व के निर्माण में शिक्षकों की भूमिका ही सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होती है। बालक  विद्यालय में शिक्षा ग्रहण करने के लिए आता है। इस अवस्था में बालक का मन-मस्तिष्क एक कोरे कागज के समान होता है। शिक्षक ही उसकी प्रतिभाओं को निखारने का काम करता है।


चंदौली में भी शिक्षक दिवस की धूम

चहनियॉ (चंदौली) क्षेत्र के रामगढ़ स्थित बाबा कीनाराम इंटर कॉलेज में शिक्षक दिवस धूमधाम से मनाया गया। प्राचार्य धनंजय सिंह ,उपप्राचार्य विपिन सिंहप्रवक्ता परमहंश सिंहप्रवक्ता शमीम अहमदसुनील पांडेय ,राकेश सिंहसंतोष सिंहअरविन्द सिंह , जयप्रकाश पाण्डेमंशूर अहमद,  विजय सिंहगौरीशंकर सिंह ,नवीन सिंह ,लालजी यादवदुखभंजन पाठक आदि मौजूद रहे। छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति की गई।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...