• दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के फर्जी डिग्री का मामला
  • अशोक सिंह हत्या कांड में पूर्व RJD सांसद प्रभुनाथ को आजीवन कारावास
  • मैनचेस्टर हमले के बाद ब्रिटेन में राजनेताओं ने चुनाव अभियान बंद किया
  • आज शाम पांच बजे होगी उत्तर प्रदेश कैबिनेट की बैठक
  • पीएम मोदी ने मैनचेस्टर हमले की निंदा की

Share On

Guest Column | 15-May-2016 02:26:20 PM
आंखें नम कर गईं इन विभूतियों की विदाई


 जिस दिन मेरी अर्थी इस दुनिया से विदा होगी

इक अलग समां होगा,इक अलग बात होगी

यह पंक्तियां उन विभूतियों के लिए बिलकुल सटीक बैठती हैं जो वर्षों से भारत को अपने हुनर के माध्‍यमसे एक पहचान देने में जुटे रहे, और इस साल संसार को हमेशा के लिए अलविदा कह गए। इनमें सिनेहस्तियां थी, साथ ही साहित्‍य जगत के दिग्‍गज और अन्‍य महान शख्सियतें भी शामिल हैं। जाते-जाते कईयों की आंखे नम कर दी, कुछ के तो अधूरे छूटे हुए सपने साकार करनेमें देश इस वर्ष कई क्रांतियों का गवाह भी बना।

ताउम्र अंधविश्‍वास औरधार्मिक पाखंड के खिलाफ आवाज उठाते रहे कन्‍नड़ साहित्‍यकार एमएम कलबुर्गी की हत्‍या30 अगस्‍त, 2015 को हुई। माना गया कि उनके ऐसे ही विचार उनकी हत्‍या का कारण बने।इस कांड ने देश भर में आक्रोश की स्थिति पैदा कर दी। कोने-कोने से तीखीप्रतिक्रियाएं आना शुरू हो गईं। बात तब और ज्‍यादा बढ़ गई जब साहित्‍य अकादमीद्वारा पुरस्‍कृत कलबुर्गी की हत्‍या पर साहित्‍य अकादमी भी चुप्‍पी साधेरही और इसके विरोध में साहित्‍यकारों ने अपने पुरस्‍कार लौटाने शुरू कर दिए। मुहिमछेड़ी नयनतारा सहगल ने, कई अन्‍य साहित्‍यकार बाद में इस मिशन का हिस्‍सा बन गए।

कलबुर्गी की हत्‍या के करीबएक माह पहले ही देश ने एक महान वैज्ञानिक, लेखक, स्‍पीकर व अद्भुत विभूती की विदाईभी देखी थी। 27 जुलाई को दिल का दौरा पड़ने से पूर्व राष्‍ट्रपति एपीजे अब्‍दुल कलाम की मृत्यु सभी को रुला गई। उनकी श्रद्धांजलि के लिए सैकड़ों की भीड़जुटी थी।

खुशी व संपन्‍न जीवन यापनकर रहे प्रसिद्ध अभिनेता जुगल किशोर ने 25 अक्‍टूबर को दम तोड़ दिया। लखनऊ के जुगलकिशोर पीपली लाइव, दबंग 2 व कई अन्‍य फिल्‍मों में काम कर चुके थे। वह एक महानथिएटर आर्टिस्‍ट थे।

वहीं 15 नवंबर को बॉलीवुड वब्रिटिश फिल्‍म के मशहूर एक्‍टर सईद जाफरी ने मुंबई में अंतिम सांसे ली। उनकी उम्र86 साल थी। वह पहले अभिनेता थे जिन्‍हें ऑर्डर ऑफ ब्रिटिश एम्‍पायर अवार्ड से नवाजागया था। रिचर्ड एटनबरो कीऑस्कर विनिंग फिल्म गांधी  के अलावा उन्होंने दिल  और अजूबा  जैसी फिल्मों में यादगार रोल किए। 

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)
मौसम ने बदली करवट............दिन में ही हो गई शाम कुछ इस तरह रहा शहर का नजारा । फोटो - कुलदीप सिंह
मौसम ने बदली करवट............दिन में ही हो गई शाम कुछ इस तरह रहा शहर का नजारा । फोटो - कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें