• Cbseresults.nic.in और Cbse.nic.in पर नतीजे घोषित
  • वैष्णो देवी के रास्ते पर लगी भीषण आग, बंद किया गया नया मार्ग
  • राहुल गाँधी ने सहारनपुर पहुँचकर पीड़ितों से मुलाकात की
  • कपिल का केजरीवाल पर आरोप- स्‍वास्‍थ्‍य विभाग और एंबुलेंस खरीद में किया घोटाला
  • 30 मई को देशभर में बंद रहेंगी दवा दुकानें
  • श्रीलंका में आए भीषण बाढ़ और भूस्‍खलन में करीब 100 लोगों की मौत
  • पंजाब के पूर्व डीजीपी केपीएस गिल का दिल्‍ली के अस्‍पताल में निधन
  • उरी में भारतीय सेना पर हमले की कोशिश नाकाम, मारे गए पाक की BAT के दौ सैनिक
  • झारखंड के डुमरी बिहार स्‍टेशन पर नक्‍सलियों का हमला, मालगाड़ी के इंजन में लगाई आग
  • "नो एंट्री" के बावजूद राहुल गांधी यूपी-हरियाणा बॉर्डर से पैदल जा रहे हैं सहारनपुर
  • कल घोषित होगें सीबीएसई और परसों आईसीएसई के 12वीं के नतीजे
  • सहारनपुर हिंसा: गृह सचिव ने लोगों के घर-घर जाकर माफी मांगी
  • पीएम मोदी ने आज देश के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन किया

Share On

Kids World | 8-Jun-2016 04:38:26 PM
गर्मियों में होने वाली आम बीमारियां जो बन सकती हैं बच्चों के लिए घातक

गर्मी में बच्चों को बचा के रखिये |

 

दि राइजिंग न्‍यूज


तापमान 40 डिग्री से पार हो रहा है। इससे बच्चों का प्रभावित होना स्वाभाविक है। गर्मी में गला खराब होनाजुकामबुखार जैसी बीमारियां आम बात हैं। लेकिन अगर उचित सावधानियां रखी जाएं तो ज्यादातर बीमारियों से बचाव हो सकता है। गर्मियों में बच्चों के स्कूल की छुट्टियां होती हैं और उनके पास काफी खाली वक्त होता है। लेकिन माता-पिता की व्यस्तता के कारण उनकी सेहत नजरअंदाज हो जाती है। बेहद जरूरी है कि बच्चे गर्मियों में भरपूर पानी पीएंगर्मी के समय ज्यादा बाहर न निकलें और पूरा आराम करें।


इस बारे में जानकारी देते हुए हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के प्रेसिडेंट और आईएमए के ऑनरेरी सेक्रेटरी डॉ के.के. अग्रवाल ने बताया कि बच्चों को गर्मियों में सेहतमंद और सुरक्षित रखने के लिए कुछ सावधानियां बरतनी बेहद जरूरी हैं। बच्चों को पर्याप्त मात्रा में पानी और पोषक आहार देना बेहद जरूरी है। डीहाईड्रेशनहीट एग्जॉशन और हीट स्ट्रोक से बचने के लिए ज्यादा सावधान रहना जरूरी है।


गर्मियों के मौसम में बचें इन आम बीमारियों से

सन स्ट्रोक- आमतौर पर गर्मियों में सनस्ट्रोक की समस्या हो जाती है क्योंकि इस मौसम में शरीर की खुद को ठंडा रखने की क्षमता कम हो जाती है। सनस्ट्रोक से बचने के लिए भरपूर मात्रा में पानी पीते रहना जरूरी है। हीट स्ट्रोक से पीड़ित होने पर लोगों को तेज बुखार और कमजोरी महसूस होती है। फोड़े- गर्मी के कारण शरीर के कई हिस्सों में छाले या फोड़े निकल आते हैं। इस मामले में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

एलर्जी- धूल और गर्मी से एलर्जी होना आम बात है। इसलिए तेज धूप में बाहर जाने से बचें। हैजाटायफायडपीलिया और दस्त पानी से होने वाली आम बीमारियां हैं जो बाहर के खाने से होती हैं। बाहर का खाना गर्मी में जल्दी खराब हो जाता है। गर्मी में पानी की मांग बढ़ जाती है और प्रदूषित पानी के कारण बीमारियां फैलती हैं।

खाने से होने वाली बीमारियां- बैक्टीरिया गर्म और नमी युक्त माहौल में पैदा होते हैं। इनसे खाने में विषैलापन पैदा होने से बीमारियां फैलती हैं।

मच्छरों से होने वाली बीमारियां- इधर-उधर पानी जमा होने से मच्छर पनपते हैं जिससे डेंगूमलेरिया और मच्छरों से होने वाली दूसरी बीमारियां फैलती हैं।


बचाव के लिए सुझाव -

सड़क पर बिकने वाले कटे हुए फल और दूसरी खाने की चीजें बच्चों को न खिलाएं। बच्चों को इस मौसम में मसालेदार और तली हुई चीजें न खिलाएं। ये पचने में भारी होती हैं। ताजे फलहरी सब्जियों और ताजे फल के रस जैसे सेहतमंद और हल्के भोजन का सेवन करें। बच्चों को प्यास न लगने पर भी पानी पीते रहने के लिए प्रेरित करेंताकि डीहाईड्रेशन न हो। उन्हें नींबू का रसनारियल पानी और दूसरे प्राकृतिक तरल पदार्थ दें जो शरीर में पानी की मात्रा बनाए रखते हैं। उन्हें हल्के एवं खुले कपड़े पहनाएं। तंदुरुस्ती के लिए बच्चों के साथ सुबह जल्दी या देर शाम कसरत करें।

"> 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)
जब सांझ ढले तब दिन ढल जाये। फोटो - कुलदीप सिंह
जब सांझ ढले तब दिन ढल जाये। फोटो - कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें