• दिल्ली कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको ने इस्तीफे की पेशकश की
  • कांग्रेस महासचिव गुरुदास कामत ने पार्टी के सभी पदों से दिया इस्तीफा
  • कुलभूषण जाधव की मां ने बेटे की सजा के खिलाफ पाकिस्तान में दायर की याचिका
  • दिल्ली एमसीडी में बीजेपी की जीत पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी बधाई
  • दिल्ली बीजेपी कार्यालय के बाहर लगी होर्डिंग- सुकमा शहीदों को समर्पित है यह जीत
  • दिल्ली में केजरीवाल के घर पहुंचे "आप" के बड़े नेता, हो रही है मीटिंग
  • एमसीडी चुनाव के रूझान के बाद मनोज तिवारी ने केजरीवाल का इस्तीफा मांगा
  • सेंसेक्स रिकॉर्ड 30,030 प्वाइंट के साथ खुला, निफ्टी 9,328.75
  • सुकमा हमले पर गृह मंत्रालय ने CRPF से मांगी रिपोर्ट
  • दिल्ली एमसीडी चुनाव की काउंटिंग शुरू
  • शशिकला के गिरफ्तार भतीजे दिनाकरन की आज कोर्ट में होगी पेशी
  • दिल्ली एमसीडी चुनाव की काउंटिंग कुछ देर में शुरू होगी
  • पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बच्चा पाठक का निधन

Share On

Campus Corner Varanasi | 5-Sep-2016 02:07:53 PM
शिक्षक दिवस पर प्रोफेसर के बर्खास्‍तगी की मांग

  • काशी विद्यापीठ कैंपस में छात्रों का धरनानारेबाजी


शिक्षक दिवस पर प्रोफेसर के बर्खास्‍तगी की मांग

 


दि राइजिंग न्‍यूज

05 सितंबरवाराणसी।

शिक्षक दिवस के दिन महात्‍मा गांधी काशी विद्यापीठ के दर्जनों छात्रों ने समाज कल्‍याण विभाग के आरोपी विभागाध्‍यक्ष की बर्खास्‍तगी की मांग को लेकर कॉलेज परिसर स्थित गांधी प्रतिमा के समक्ष पूर्वाहृन 11 बजे धरना दिया। आक्रोशित छात्रों ने कुलपति के विरोध में जमकर नारेबाजी की। उनका कहना है कि दबाव में आरोपी प्रोफेसर को बहाल कर दिया गया है। जब तक उनकी बर्खास्‍तगी नहीं होती छात्र आंदोलन करेंगे। प्रोफेसर पर समाज कल्‍याण विभाग की एक छात्रा ने शारीरिक और मानिसक उत्‍पीड़न का आरोप लगाया है।


कोर्ट में विचाराधीन मामला, बावजूद बहाल किया

इस अवसर पर हुई सभा में छात्र नेता राजेश राजपूत ने कहा कि दुर्भाग्‍यवश शिक्षक संघ के धरने के दबाव में आकार कुलपति पृथ्‍वीशनाग ने आरोपी प्रोफेसर को अपने पद पर बहाल कर दिया है। जबकि यह मामला अभी न्‍यायालय में विचाराधीन है। धरनारत छात्रों की मांग है कि विभागाध्‍यक्ष को तत्‍काल प्रभाव से निलंबित कर कार्रवाई की गई। छात्रा के आरोप की जांच समिति से कराई जाए जिससे न्‍याय मिल सके। धरने की पूर्व में जानकारी होने के कारण कॉलेज प्रशासन की ओर से सुरक्षा का पुख्‍ता बंदोबस्‍त किया गया था। कई प्रोफेसर और काशी विद्यापीठ के कर्मचारी धरना स्‍थल पर मौजूद थे। धरना-प्रदर्शन में प्रमुख रूप से राजीव अमित सिंहरमेश यादवराजेश कुशाग्ररोहितअनीता,सुनीतासिद्धार्थ आदि उपस्थित थे।  

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 

Newsletter

Click Sign Up for subscribing Our Newsletter



   Photo Gallery   (Show All)

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें