• Cbseresults.nic.in और Cbse.nic.in पर नतीजे घोषित
  • वैष्णो देवी के रास्ते पर लगी भीषण आग, बंद किया गया नया मार्ग
  • राहुल गाँधी ने सहारनपुर पहुँचकर पीड़ितों से मुलाकात की
  • कपिल का केजरीवाल पर आरोप- स्‍वास्‍थ्‍य विभाग और एंबुलेंस खरीद में किया घोटाला
  • 30 मई को देशभर में बंद रहेंगी दवा दुकानें
  • श्रीलंका में आए भीषण बाढ़ और भूस्‍खलन में करीब 100 लोगों की मौत
  • पंजाब के पूर्व डीजीपी केपीएस गिल का दिल्‍ली के अस्‍पताल में निधन
  • उरी में भारतीय सेना पर हमले की कोशिश नाकाम, मारे गए पाक की BAT के दौ सैनिक
  • झारखंड के डुमरी बिहार स्‍टेशन पर नक्‍सलियों का हमला, मालगाड़ी के इंजन में लगाई आग
  • "नो एंट्री" के बावजूद राहुल गांधी यूपी-हरियाणा बॉर्डर से पैदल जा रहे हैं सहारनपुर
  • कल घोषित होगें सीबीएसई और परसों आईसीएसई के 12वीं के नतीजे
  • सहारनपुर हिंसा: गृह सचिव ने लोगों के घर-घर जाकर माफी मांगी
  • पीएम मोदी ने आज देश के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन किया

Share On

Senior Citizen | 28-Jun-2016 12:52:11 PM
रेलवे किराए में छूट बंद करना चाहती है आइआरसीटी
    -सभी मिलने वाली 55 तरह की रियायते होंगीं बंद

   -रेलमंत्रालय के निशाने पर सबसे पहले बुजुर्ग यात्री

   -अगर आप न लेना चाहे छूट तो अभी मिल रहा विकल्‍प



रेल किराया छूट बंद करना चाहती है आइआरसीटी

 
दि राइजिंग न्‍यूज

रेल मंत्रालय किरायों में मिलने वाली सब्सिडी के बाद अब रियायती टिकटों पर नजर लगा रही है। इसके लिए आइआरसीटी ने एक प्रपोजल भेजा है जिसमें यात्रा किराए में बुजुर्गों को मिलने वाली पचास फीसद रियायत को खत्‍म करने की बात कही गई है। रेल मंत्रालय के अनुसार ऐसा प्रपोजल मिला है। इस पर फैसला हो चुका है। अधिकारियों का कहना है कि बहुत संभव है कि रेलवे इस छूट को वापस ले लेगी। फिलहाल अभी विकल्‍प दिया जा रहा है कि अगर आप छूट न लेना चाहे तो उसको आरक्षण फार्म पर भर दें।


सब्सिडी का भारी बोझ कम करने के लिए भारतीय रेलवे अब वरिष्ठ नागरिकों को आरक्षित वर्ग के टिकटों की खरीद पर मिलने वाली रियायत छोड़ने का विकल्प दे रहा है। रेलवे ने वरिष्‍ठ नागरिकों को किराए में मिल रही सब्सिडी छोड़ने का विकल्‍प देने का फैसला किया है। सब्सिडी का भारी बोझ कम करने का तर्क देकर उठाए गए इस कदम से वरिष्ठ नागरिकों को आरक्षित वर्ग के टिकटों की खरीद पर मिलने वाली रियायत छोड़ने का विकल्‍प दिया जाएगा। इसके अलावा रेलवे ने ट्रेन के सफर पर होने वाला असली खर्च टिकट पर मुद्रित करना शुरू कर दिया है ताकि यात्रियों को रेलवे से मिलने वाली सब्सिडी की जानकारी मिले।


पिछले वित्त वर्ष में रेलवे को सब्सिडी पर 1600 करोड़ की धनराशि खर्च करनी पड़ी थी। इनमें वरिष्ठ नागरिकों, खेल पुरस्कार विजेताओं और कैंसर मरीजों सहित अन्य को दी जाने वाली सब्सिडी की राशि शामिल है। इस समय 55 श्रेणी के यात्री ट्रेन टिकट की खरीद पर रियायत हासिल करने की पात्रता रखते हैं।



रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि सब्सिडी पर सबसे ज्यादा खर्च वरिष्ठ नागरिकों की श्रेणी में होता है। पिछले साल केवल इस श्रेणी के लिए रेलवे को 1100 करोड़ रुपए की सब्सिडी देनी पड़ी थी। वरिष्ठ नागरिकों की श्रेणी के तहत महिला यात्रियों को 50 जबकि पुरुष यात्रियों को 40 प्रतिशत रियायत दी जाती है। इस श्रेणी के तहत रियायत हासिल करने के लिए महिलाओं की उम्र कम से कम 58 जबकि पुरूषों की उम्र 60 साल होनी चाहिए।


पहले टिकट लेते समय उम्र भरने पर यात्रियों को स्वत: रियायत मिल जाती थी लेकिन अब उनके पास रियायत छोड़ने का विकल्प है। अधिकारी ने कहा अब यात्रियों को टिकट खरीदने से पहले एक विकल्प दिया जा रहा है। अगर कोई वरिष्ठ नागरिकों को मिलने वाली रियायत नहीं लेना चाहता है और पूरा किराया देने के लिए तैयार हैं तो ऐसा कर सकता है। इसके अनुरूप सॉफ्टवेयर में बदलाव किया गया है।


 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)
जब सांझ ढले तब दिन ढल जाये। फोटो - कुलदीप सिंह
जब सांझ ढले तब दिन ढल जाये। फोटो - कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें