• वसंतकुंज और मालवीय नगर बिना कागजात के रह रहे 20 विदेशी पकड़े गए
  • एवरेस्‍ट पर चढ़ने के बाद गायब भारतीय रवि कुमार मृत पाए गए
  • सिख विरोधी दंगा मामले में जगदीश टाइटलर ने लाई डिटेक्‍टर टेस्‍ट कराने से किया इंकार
  • मुंबईः कॉकपिट से धुआं निकलने के बाद एयर इंडिया फ्लाइट की इमरजेंसी लैंडिंग, सभी यात्री सुरक्षित
  • लखनऊ: IAS अनुराग तिवारी की मौत के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR
  • कोयला घोटाला: पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 2 साल की सजा
  • PM मोदी की हत्या करने के लिए 50 करोड़ रुपये का ऑफर, विदेश से आई कॉल

Share On

Sports | 11-Jan-2017 04:38:34 PM
वीडियो में देखिए...धोनी-युवी की यारी



 


दि राइजिंग न्‍यूज

11 जनवरी, खेल डेस्‍क।

इंग्‍लैंड इलेवन के खिलाफ भारत ए की कप्‍तानी करते हुए महेंद्र सिंह धोनी हर किसी के आकर्षण के केंद्र थे। उनके फैंस को इस मैच में उसी धोनी की झलक मिली जो अपनी धुआंधार बल्‍लेबाजी से विपक्षी गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाता था। इस मैच में धोनी ने महज 40 गेंद पर आठ चौकों और दो छक्‍कों की मदद से नाबाद 68 रन ठोक दिए और उनका स्‍ट्राइक रेट 170.00 का रहा। 

बाद में धोनी ने जिस लिहाज से अपने प्रशंसकों को आश्‍वस्‍त किया उससे उनके आगे भी इसी आक्रामक अंदाज में बल्‍लेबाजी की उम्‍मीद बंधी है। धोनी ने कहा है कि आक्रामक बल्‍लेबाजी ने ही उन्‍हें इस ऊंचाई तक पहुंचाया है और अपने आक्रामक तेवरों को वे जारी रखेंगे।

गौरतलब है कि धोनी ने पिछले सप्‍ताह शॉर्टर फॉर्मेट की कप्‍तानी छोड़ने का फैसला करके हर किसी को चौंका दिया था। इस लिहाज से माना जा रहा है कि यह धोनी का कप्‍तान के तौर पर आखिरी मैच है। यही कारण रहा कि अपने पसंदीदा कैप्‍टन कूल को देखने ब्रेबोर्न स्‍टेडियम पर बड़ी संख्‍या में उनके प्रशंसक पहुंचे। 

एक प्रशंसक ने तो सुरक्षा का घेरा तोड़कर पिच तक पहुंचने की हिमाकत की। इस प्रशंसक ने धोनी के पैर भी छुए। प्रशंसकों के लिए दुख की बात यह रही कि इस मैच में भारत ए टीम को हार का सामना करना पड़ा, लेकिन वे कप्‍तान के रूप में माही के अंतिम मैच का हिस्‍सा बनकर खुश नजर आए।

 


 

मैच के बाद धोनी ने युवराज सिंह के साथ वीडियो चैट में हिस्‍सा लिया। टीम इंडिया के इस पूर्व कप्‍तान ने साफ कहा कि आक्रामक अंदाज बरकरार रहेगा और यदि गेंद छक्‍के लिए उड़ाने की होगी को वे ऐसा करते रहेंगे। लंबे समय तक टीम के साथी रहे युवराज से उन्‍होंने कहा, अगर गेंद मेरे मनमाफिक और सही एरिया में होगी तो मैं छक्का मारने की कोशिश करूंगा। 

अपनी कप्‍तानी में टीम इंडिया को दो वर्ल्‍डकप (टी20 और 50 ओवर का वर्ल्‍डकप) दिलाने वाले एकमात्र धोनी ने कहा, सफर अच्छा रहा, शानदार। युवराज की ओर देखते हुए वे बोले, आप जैसे खिलाड़ियों का होना अच्छा रहाइससे काम काफी आसान हो गया। मैंने अपने 10 वर्षों का पूरा आनंद उठाया। उम्‍मीद है कि बाकी बचे करियर में भी यह जारी रहेगा।

युवराज साथ में हों तो टी20 वर्ल्‍डकप के उनके छह छक्‍कों का जिक्र छिड़ना ही था। इस बारे में धोनी ने कहा, आपको धन्यवाद, मैंने छह छक्के का कारनामा सर्वश्रेष्ठ जगह से देखा। गौरतलब है कि इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड के ओवर में जब युवी ने छह छक्‍के उड़ाए थे तो धोनी नॉन स्‍ट्राइकर एंड पर थे। मैच के बाद युवराज ने  सोशल मीडिया पर यह वीडियो डाला। 

अपने पूर्व कप्तान की सराहना करते हुए युवराज ने कहा, आप सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक हैं। आपके नेतृत्व में खेलना, तीन बड़ी चैम्पियनशिप जीतना, और दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम बनना शानदार रहा।

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)
मौसम ने बदली करवट............दिन में ही हो गई शाम कुछ इस तरह रहा शहर का नजारा । फोटो - कुलदीप सिंह
मौसम ने बदली करवट............दिन में ही हो गई शाम कुछ इस तरह रहा शहर का नजारा । फोटो - कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें