• पंजाब के पूर्व डीजीपी केपीएस गिल का दिल्‍ली के अस्‍पताल में निधन
  • उरी में भारतीय सेना पर हमले की कोशिश नाकाम, मारे गए पाक की BAT के दौ सैनिक
  • ईवीएम चुनौती के लिए आवेदन का आज आखिरी दिन
  • झारखंड के डुमरी बिहार स्‍टेशन पर नक्‍सलियों का हमला, मालगाड़ी के इंजन में लगाई आग
  • शेयर बाजार की नई ऊंचाई, सेंसेक्‍स पहली बार पहुंचा 31,000 के पार
  • चीन सीमा के पास मिला तीन दिन से लापता सुखोई-30 का मल‍बा, पायलेट का पता नहीं
  • जेवर हाइवे गैंगरेप: पीडि़ता ने बदला अपना बयान
  • राहुल गांधी कल जाएंगे सहारनपुर पीडि़तों से मिलने
  • कल घोषित हो सकते हैं सीबीएसई के 12वीं के नतीजे
  • सहारनपुर हिंसा: गृह सचिव ने लोगों के घर-घर जाकर माफी मांगी
  • पीएम मोदी ने आज देश के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन किया
  • बाबरी मस्जिद विध्वंस केस: आडवाणी समेत 6 नेताओं को CBI कोर्ट ने किया तलब

Share On

Lucknow | 11-Jan-2017 11:44:25 AM
पुलिस से चार कदम आगे चंदन तस्‍कर

  • खाली हाथ पुलिस, जांच के नाम पर खानापूर्ति



 

दि राइजिंग न्‍यूज

11 जनवरी, लखनऊ।

दो महीने से अधिक समय बीत जाने के बाद भी पुलिस चंदन चोरों का सुराग लगा पाने में नाकामयाब रही है। जबकि इसी दौरान राजधानी में लगातार दो घटनाएं भी हो गईं। इनमें प्राणि उद्दान में एक और लखनऊ विश्‍वविद्यालय में दो और चंदन के पेड़ कट गए। जहां पुलिस जांच के नाम का ढोल पीट रही है, तो वहीं संभव है कि ये चंदन तस्‍कर जल्‍द ही अगली घटना को अंजाम देने की योजना बना रहे हों। हालांकि एसपी पूर्वी शिव राम यादव अभी भी जल्‍द गिरफ्तारी करने का दम भर रहे हैं।

राष्ट्रीय वनस्पति अनुसंधान संस्थान (एनबीआरआइ) से पांच नवंबर को चोरी हुए चंदन के पेड़ों के मामले में पुलिस को अभी तक कुछ भी हाथ नहीं लगा। घटना के बाद पुलिस ने आरोपियों को जल्‍द ही गिरफ्तार करने के दावे किए थे। मामले में पुलिस कितनी संजीदा दिख रही है यह उसकी जांच ही बता रही है।

जानकारी के लिए बता दें कि बीते वर्ष पांच नवंबर को एनबीआरआइ से तीन चंदन के पेड़ चोरी हो गए थे। पहले मामले को दबाने का प्रयास भी किया गया लेकिन जब मीडिया में खबरें आईं तो आनन-फानन में हजरतगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया।

पुलिस ने भी मामले में तेजी दिखाने का प्रयास किया और सीसीटीवी फुटेज लेकर उसकी जांच भी की लेकिन कुछ भी हाथ नहीं लगा। पुलिस के अनुसार देर रात धुंध होने के कारण फुटेज में कुछ स्‍पष्‍ट नजर नही आया था।

 

एनबीआरआइ से चोरी हुए चंदन के पेड़ के मामले में पुलिस के पास ऐसा कुछ भी नहीं है जिससे जांच को सकारात्‍मक बताया जा सके। हम अभी भी पहले वाली स्थिति में ही हैं। टीमें लगाई गई हैं लेकिन आरोपियों के बारे में कोई सुराग नहीं मिला जबकि जांच टीम को बाराबंकी, बहराइच भी भेजा गया हालांकि उम्‍मीद है कि आरो‍पी जल्‍द ही पुलिस की गिरफ्त में होगें।

शिवराम यादव (अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी)

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)
"जब सांझ ढले तब दिन ढल जाये"  । फोटो - कुलदीप सिंह
"जब सांझ ढले तब दिन ढल जाये" । फोटो - कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें