• वसंतकुंज और मालवीय नगर बिना कागजात के रह रहे 20 विदेशी पकड़े गए
  • एवरेस्‍ट पर चढ़ने के बाद गायब भारतीय रवि कुमार मृत पाए गए
  • सिख विरोधी दंगा मामले में जगदीश टाइटलर ने लाई डिटेक्‍टर टेस्‍ट कराने से किया इंकार
  • मुंबईः कॉकपिट से धुआं निकलने के बाद एयर इंडिया फ्लाइट की इमरजेंसी लैंडिंग, सभी यात्री सुरक्षित
  • लखनऊ: IAS अनुराग तिवारी की मौत के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR
  • कोयला घोटाला: पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 2 साल की सजा
  • PM मोदी की हत्या करने के लिए 50 करोड़ रुपये का ऑफर, विदेश से आई कॉल

Share On

Guest Column | 10-Jan-2017 05:02:55 PM
डेमोनिटाइज़ेशन: हाल-ए-दिल



 - विनीत कुमार

आम आदमी और लाइन लगाना,

दोनों का रिश्‍ता है जरा पुराना।

 

डेमोनिटाइज़ेशन का किस्‍सा,

है जो आपको सुनाना

 

रातों रात जो ये फैसला आया है,

कालेधन वालों का कलेजा मुंह में आया है

 

किसी के लिए ये फैसला छा गया,

तो किसी को एसी में भी पसीना आ गया

 

जा रहा है आम आदमी के चेहरे का नूर,

क्‍या ब्‍लैक मनी होगी दूर।

 

वो कहता है ये फैसला कमाल का है,

पर अंदर से वो भी बेहाल सा है।

 

जहां गांवों में अनपढ़ों की टोली थी,

ये फैसला और कैशलेश ट्रांसजेक्‍शन जैसे उसके सीने में गोली थी।

 

जन जन की ये आवाज है,

हां मोदी जी सबके साथ हैं।

 

आंखों में एक आस है,

ये फैसला कुछ खास है।

 

शादियों में रुकावट के लिए खेद है,

पर बुरा न मानो ये ब्‍लैक मनी को मिटाने की रेस है...।

 

जरूरतों की चीजों की किल्‍लत है,

लाइन एटीएम में लगाया तो ऑफिस लेट है।

 

अब हर जगह दिक्‍कतों की डीबेट है,

पर बुरा न मानो ये ब्‍लैक मनी को मिटाने की ये रेस है...।

 

माना जिंदगी की रेस धीमी हो गई है,

500-1000 नोटों की चमक कहीं खो गई है।

 

जेबें भरी पड़ी हैं फिर भी कंगाली छाई है,

पर बुरा न मानो ये ब्‍लैक मनी को मिटाने की ये रेस है...।

 

हां बदलाव जो जरूर आया है,

जो नया नोट घर आया है।

 

अब कालेधन वालों का पैसा जो निकल रहा है,

ये फैसला अब सबको जंच रहा है।

 

अपोजिशन का हाजमा बिगड़ रहा है,

नींद में भी वो कुछ न कुछ कह रहा है।

 

हर पल रिजर्व बैंक का जो नियम बदल रहा है,

देख जिसे हर कोई रिर्वस बैंक कह रहा है।


 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)
मौसम ने बदली करवट............दिन में ही हो गई शाम कुछ इस तरह रहा शहर का नजारा । फोटो - कुलदीप सिंह
मौसम ने बदली करवट............दिन में ही हो गई शाम कुछ इस तरह रहा शहर का नजारा । फोटो - कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें