• राहुल गांधी कल जाएंगे सहारनपुर पीडि़तों से मिलने
  • कल घोषित हो सकते हें सीबीएसई के 12वीं के नतीजे
  • सहारनपुर हिंसा: गृह सचिव ने लोगों के घर-घर जाकर माफी मांगी
  • पीएम मोदी ने आज देश के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन किया
  • बाबरी मस्जिद विध्वंस केस: आज आरोप तय करेगी CBI की स्पेशल कोर्ट
  • सहारनपुर में हिंसा के बाद धारा 144 लागू, इंटरनेट सेवा पर भी बैन
  • मोदी सरकार के 3 साल के जश्न में सहयोगी मुख्यमंत्रियों को न्योता नहीं- सूत्र
  • मैसूर ब्लास्ट केस में NIA ने फाइल की चार्जशीट

Share On

Finance | 9-Jan-2017 04:21:54 PM
साल के मुकाबले 25 प्रतिशत ज्‍यादा जमा हुआ टैक्‍स

  • कैश की कमी के बावजूद टैक्‍स कलेक्‍शन बढ़ा
  • अप्रत्‍यक्ष कर पिछले साल से 25 प्रतिशत की बढ़ोत्‍तरी




 

दि राइजिंग न्‍यूज

09 जनवरी, नई दिल्‍ली।

सरकार की ओर से बताया गया है कि इस वित्‍तीय वर्ष में टैक्‍स में वृद्धि दर्ज की गई है। नोटबंदी के बाद अर्थव्‍यवस्‍था में सुस्‍ती के आरोपों से घिरीं सरकार ने टैक्‍स के आंकड़ों के जरिए सफार्इ दी है। वित्‍तमंत्री अरुण जेटली ने बताया कि अप्रत्‍यक्ष करों में अप्रैल से दिसंबर 2016 के बीच पिछले साल के मुकाबले 25 प्रतिशत की बढ़ोत्‍तरी हुई है। 

इस साल अप्रैल से दिसंबर के बीच 12.01 प्रतिशत ज्‍यादा डायरेक्‍ट टैक्‍स आया है। वहीं सेंट्रल एक्‍साइज में दिसंबर 2015 की तुलना में इस साल 31.6 प्रतिशत की वृद्धि रही है। इसी तरह से अप्रत्‍यक्ष करों में नवंबर 2016 की तुलना में दिसंबर 2016 में 12.8 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई।

जेटली के अनुसार, पहली तीन तिमाहियों में अप्रत्‍यक्ष कर काफी बढ़ा है। इसके अलावा ज्‍यादातर राज्‍यों में वैट कलेक्‍शन भी बढ़ा है। हालांकि दिसंबर में कस्‍टम में छह प्रतिशत की कमी दर्ज की गई। बताया गया कि सोने के आयात में कमी के चलते ऐसा हुआ।

उन्‍होंने कहा कि यह तो कच्‍चा अनुमान है वास्तविक आंकड़े बजट में पेश किए जाएंगे। वहीं पेट्रोल पंपों पर कार्ड से पेमेंट को लेकर विवाद के बारे में जेटली ने बताया कि इस पर चर्चा चल रही है। वह पेट्रोलियम मंत्रालय और बैंकों के संपर्क में हैं। जल्‍द ही इसका हल निकाल लिया जाएगा

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)
"जब सांझ ढले तब दिन ढल जाये"  । फोटो - कुलदीप सिंह
"जब सांझ ढले तब दिन ढल जाये" । फोटो - कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें