• पंजाब के पूर्व डीजीपी केपीएस गिल का दिल्‍ली के अस्‍पताल में निधन
  • उरी में भारतीय सेना पर हमले की कोशिश नाकाम, मारे गए पाक की BAT के दौ सैनिक
  • ईवीएम चुनौती के लिए आवेदन का आज आखिरी दिन
  • झारखंड के डुमरी बिहार स्‍टेशन पर नक्‍सलियों का हमला, मालगाड़ी के इंजन में लगाई आग
  • शेयर बाजार की नई ऊंचाई, सेंसेक्‍स पहली बार पहुंचा 31,000 के पार
  • चीन सीमा के पास मिला तीन दिन से लापता सुखोई-30 का मल‍बा, पायलेट का पता नहीं
  • जेवर हाइवे गैंगरेप: पीडि़ता ने बदला अपना बयान
  • राहुल गांधी कल जाएंगे सहारनपुर पीडि़तों से मिलने
  • कल घोषित हो सकते हैं सीबीएसई के 12वीं के नतीजे
  • सहारनपुर हिंसा: गृह सचिव ने लोगों के घर-घर जाकर माफी मांगी
  • पीएम मोदी ने आज देश के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन किया
  • बाबरी मस्जिद विध्वंस केस: आडवाणी समेत 6 नेताओं को CBI कोर्ट ने किया तलब

Share On

Sports | 9-Jan-2017 01:53:03 PM
एमएस धोनी से जबरदस्‍ती छुड़वाई गई कप्‍तानी

  • साढ़े तीन महीने पहले ही शुरू हो गई प्रकिया: रिपोर्ट



 

दि राइजिंग न्‍यूज

09 जनवरी, मुंबई।

महेंद्र सिंह धोनी ने भारतीय वनडे और टी20 टीम की कप्‍तानी छोड़ी नहीं थी बल्कि उन्‍हें पद छोड़ने को कहा गया था। रिपोर्ट के अनुसार, चयनकर्ताओं की ओर से धोनी को कहा गया कि अब उन्‍हें पद छोड़ना होगा। 

गौरतलब है कि जिस दिन धोनी ने कप्‍तानी छोड़ने का ऐलान किया था उसी दिन चयन समिति के प्रमुख एमएसके प्रसाद नागपुर में झारखंड और गुजरात के रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल के दौरान धोनी से मिले थे। धोनी के फैसले के बाद प्रसाद ने उनकी तारीफ की थी। उन्‍होंने कहा था, ”मैं उनकी शानदार टाइमिंग की तारीफ करता हूं। वह जानते हैं कि विराट टेस्‍ट में खुद को गजब के कप्‍तान के रूप में साबित कर चुके हैं।

रिपोर्ट के अनुसार, धोनी की जगह विराट कोहली को वनडे और टी20 टीम की कप्‍तानी सौंपने की प्रकिया पिछले साल सितम्‍बर में ही शुरू हो गई थी। 21 सितम्‍बर 2016 को जब नई चयन समिति का गठन हुआ था उसी के साथ बदलाव की बात चलने लगी थी।

पांच सदस्‍यीय चयन समिति की ओर से धोनी को बताया गया कि उनकी नजरें 2019 के वर्ल्‍ड कप पर हैं और कोहली का समय अब आ चुका है। इसके बाद नागपुर में प्रसाद ने धोनी से फिर से इस बारे में बात की। धोनी ने बीसीसीआई को कप्‍तानी छोड़ने की जानकारी दे दी।

वर्ल्‍ड कप 2015 के बाद वनडे में टीम इंडिया का प्रदर्शन अपेक्षा के अनुसार नहीं रहा था। इसके चलते धोनी पर कप्‍तानी छोड़ने का दबाव बढ़ रहा था। दूसरी ओर विराट कोहली के नेतृत्‍व में भारत ने लगातार पांच टेस्‍ट सीरीज जीती और नंबर वन रैंक हासिल की।

दक्षिण अफ्रीका से भारत घर में पांच वनडे की सीरीज 3-2 से हार गया था। इसके बाद ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर उसे 4-1 से शिकस्‍त झेलनी पड़ी। पिछले साल न्‍यूजीलैंड से पांच वनडे मैचों की श्रंखला के दौरान भी भारत 3-2 से मुश्किल जीत दर्ज कर पाया था।

भारत ने 2016 में छह वनडे जीते और सात हारे। टी20 में भी टीम इंडिया का प्रदर्शन उतार-चढ़ाव वाला रहा। टीम ने ऑस्‍ट्रेलिया को 3-0 से हराया और इसके बाद एशिया कप जीता। साथ ही श्रीलंका को 2-1 से मात दी। हालांकि वर्ल्‍ड टी20 में भारत सेमीफाइनल में हार गया था। इसके बाद अमेरिका में वेस्‍ट इंडीज से टी20 सीरीज भी 1-0 से गंवा दी थी।

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)
सत्र के पहले दिन कांग्रेसी विधायक अजय कुमार नमन करते नजर आए तो प्रधानमंत्री की याद ताजा हो गई, वहीं बीजेपी विधायक ब्रजेश पाठक महज नकल करने में मगन दिखे। फोटो -गौरव
सत्र के पहले दिन कांग्रेसी विधायक अजय कुमार नमन करते नजर आए तो प्रधानमंत्री की याद ताजा हो गई, वहीं बीजेपी विधायक ब्रजेश पाठक महज नकल करने में मगन दिखे। फोटो -गौरव

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें