• दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के फर्जी डिग्री का मामला
  • अशोक सिंह हत्या कांड में पूर्व RJD सांसद प्रभुनाथ को आजीवन कारावास
  • मैनचेस्टर हमले के बाद ब्रिटेन में राजनेताओं ने चुनाव अभियान बंद किया
  • आज शाम पांच बजे होगी उत्तर प्रदेश कैबिनेट की बैठक
  • पीएम मोदी ने मैनचेस्टर हमले की निंदा की

Share On

National | 9-Jan-2017 12:31:00 PM
कार्ड से अब 13 तक तेल देंगे पेट्रोल पंप

  • बैंकों ने एमडीआर शुल्‍क लेने का फैसला टाला
  • वित्त मंत्रालय और पेट्रोलियम मंत्रालय को जानकारी नहीं



 


दि राइजिंग न्‍यूज

09 जनवरी, नई दिल्‍ली।

पेट्रोल पंपों पर डेबिट और क्रेडिट कार्ड से 13 जनवरी तक पेट्रोल लिया जा सकेगा। बैंकों द्वारा उपभोक्ताओं के बजाय इन पेट्रोल पंपों पर लेनदेन (एमडीआर) शुल्क लगाने का निर्णय किए जाने के बाद पेट्रोल पंपों ने सिर्फ नकद भुगतान से पेट्रोल देने का फैसला किया था और रविवार की रात से इन लोगों ने पाइंट आफ सेल मशीनें भी हटानी शुरू कर दी थीं, लेकिन बैंकों द्वारा शुल्क लगाने का फैसला फिलहाल वापस ले लेने के बाद रविवार देर रात पेट्रोल पंप मालिकों ने इस फैसले को टाल दिया।

बैंकों द्वारा शुल्क लगाने के फैसले के बारे में कोई भी जानकारी होने से वित्त मंत्रालय और पेट्रोलियम मंत्रालय इनकार कर रहे हैं। वित्त मंत्रालय के प्रवक्ता ने नई दिल्ली में पेट्रोल पंप मालिकों से कहा कि उन्हें बैंकों के निर्णय की कोई जानकारी नहीं थी।

पेट्रोल पंप मालिकों ने बैंकों को कहा है कि शुल्क लगाने के इस निर्णय को तुरंत वापस लें। पेट्रोल पंप पर कार्ड पेमेंट पर ऐसे समय पर रोक लग रही है, जब केंद्र प्लास्टिक मनी लारा पेट्रोल खरीदने को प्राथमिकता देने पर जोर दे रहा है। हाल ही में केंद्र सरकार ने नॉन कैश ट्रांसजेक्शन पर 0.75% कैशबैक की सुविधा दी थी।

ये भी पढ़ें

पीएम मोदी कर सकते है ये नया ऐलान

जब आठवीं में पढ़ने वाली स्‍टूडेंट से टीचर ने कहा आई लव यू तो...

बैंकों द्वारा इस फैसले के बारे में आइसीआइसीआइ, एचडीएफसी और ऐक्सिस बैंक ने शनिवार रात को डीलर्स को नोटिस भेज शुल्क लगाने की जानकारी दी। देश के 56,190 पेट्रोल पंप में से करीब 52,000 पेट्रोल पंपों पर आइसीआइसीआइ और एचडीएफसी बैंक की कार्ड स्वाइप मशीनें हैं।

नोटिस मिलने के बाद रविवार को पेट्रोल पंप डीलर्स एसोसिएशन ने बंगलुरु में आपात बैठक कर कार्ड के जरिए भुगतान न लेने का फैसला किया था। ऑल इंडिया पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन (एआइपीडीए) के अध्यक्ष अजय बंसल ने कहा कि इस शुल्क लगाने का असर उनके मुनाफे पर पड़ेगा।

नकदीरहित लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने उपभोक्ताओं के लिए ईंधन की खरीद पर मर्चेंट डिस्काउंट रेट (एमडीआर) खत्म कर दिया था। लेकिन 50 दिन की छूट की अवधि समाप्त होने के बाद बैंकों ने पेट्रोल पंप मालिकों पर एमडीआर लगाने का निर्णय किया है।

पेट्रोल पंप ओनर्स एसोसिएशन ने कहा कि उन्हें एचडीएफसी बैंक द्वारा सूचित किया गया है कि नौ जनवरी, 2017 से क्रेडिट कार्ड से किए जाने वाले सभी सौदों पर एक फीसद और डेबिट कार्ड से किए जाने वाले सभी सौदों पर 0.25 फीसद से एक फीसद के बीच शुल्क लिया जाएगा। यह राशि हमारे खाते से निकाल ली जाएगी और शुद्ध लेनदेन मूल्य हमारे खाते में डाला जाएगा।

 

सिर्फ नकदी से भुगतान का फैसला क्यों लिया था

बैंकों द्वारा उपभोक्ताओं के बजाय इन पेट्रोल पंपों पर लेनदेन (एमडीआर) शुल्क लगाने का निर्णय किए जाने के बाद पेट्रोल पंपों ने यह फैसला किया था। नकदीरहित लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने उपभोक्ताओं के लिए ईंधन की खरीद पर एमडीआर खत्म कर दिया था। लेकिन 50 दिन की छूट की अवधि समाप्त होने के बाद बैंकों ने पेट्रोल पंप मालिकों पर एमडीआर लगाने का निर्णय किया है।

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)
मौसम ने बदली करवट............दिन में ही हो गई शाम कुछ इस तरह रहा शहर का नजारा । फोटो - कुलदीप सिंह
मौसम ने बदली करवट............दिन में ही हो गई शाम कुछ इस तरह रहा शहर का नजारा । फोटो - कुलदीप सिंह

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें