• पंजाब के पूर्व डीजीपी केपीएस गिल का दिल्‍ली के अस्‍पताल में निधन
  • उरी में भारतीय सेना पर हमले की कोशिश नाकाम, मारे गए पाक की BAT के दौ सैनिक
  • ईवीएम चुनौती के लिए आवेदन का आज आखिरी दिन
  • झारखंड के डुमरी बिहार स्‍टेशन पर नक्‍सलियों का हमला, मालगाड़ी के इंजन में लगाई आग
  • शेयर बाजार की नई ऊंचाई, सेंसेक्‍स पहली बार पहुंचा 31,000 के पार
  • चीन सीमा के पास मिला तीन दिन से लापता सुखोई-30 का मल‍बा, पायलेट का पता नहीं
  • जेवर हाइवे गैंगरेप: पीडि़ता ने बदला अपना बयान
  • राहुल गांधी कल जाएंगे सहारनपुर पीडि़तों से मिलने
  • कल घोषित हो सकते हैं सीबीएसई के 12वीं के नतीजे
  • सहारनपुर हिंसा: गृह सचिव ने लोगों के घर-घर जाकर माफी मांगी
  • पीएम मोदी ने आज देश के सबसे लंबे पुल का उद्घाटन किया
  • बाबरी मस्जिद विध्वंस केस: आडवाणी समेत 6 नेताओं को CBI कोर्ट ने किया तलब

Share On

Varanasi | 17-Dec-2016 05:41:47 PM
बीएचयू में दिखा लघु भारत का नज़ारा



 

दि राइजिंग न्‍यूज

17 दिसंबर, वाराणसी।

संस्कृति मंत्रालय और काशी हिन्दू विश्वविद्वालय के संयुक्त तत्वावधान में शनिवार से शुरू आ​ठ दिवसीय राष्ट्रीय संस्कृति महोत्सव के चलते पूरे परिसर में लघु भारत का नजारा दिख रहा है। महोत्सव की मस्ती लंका स्थित विवि के सिंहद्वार से लगायत स्वतंत्रता भवन सभागार तक छाई है।

 

परिसर में और कार्यक्रम स्थलों तक जगह-जगह पोट्रेट रंगोली पेंटिग्स के साथ झारखंड से लेकर नागपुर और महाराष्ट्र से उड़ीसा तक की पारंपरिक कलाओं के साथ वहां की सांस्कृतिक छंटा बिखर गई है। स्वतंत्रता भवन के बाहर उड़ीसा के कलाकारों ने स्थानीय कला पीपली से बिल्डिंग को बाहर से आकर्षक ढंग से सजाया है।

 

वहीं झारखंड, छत्तीसगढ़, पंजाब, मध्य प्रदेश, केरल के कलाकारों की पेंटिंग और स्थानीय कला की प्रदर्शनी लगाई गई है। यहां कला के प्रतिबिंब मुखौटे भी लोगों को आकर्षित कर रहे हैं। उधर कश्मीर, उड़ीसा, असम, मध्य प्रदेश, उत्तरांचल, महाराष्ट्र समेत देश के विभिन्न राज्यों से आए कलाकारों ने परिसर स्थित मालवीय द्वार, स्वतंत्रता भवन, परिसर विश्वनाथ मंदिर, महिला महाविद्वालय, मधुबन आदि स्थानों पर रंगारंग कार्यक्रम नृत्य प्रस्तुत कर आर्कषण के केन्द्र बने हुए हैं।


महिला महाविद्यालय चौराहे के पास कलाकारों-छात्राओं ने आकर्षक रंगोली भी बनाई। इसी तरह लक्ष्मणदास अतिथिगृह
, भारत कला भवन, दृश्यकला संकाय चौराहे तक, पंडित ओंकार नाथ ठाकुर प्रेक्षागृह, स्वतंत्रता भवन के आस-पास भी इसी तरह के झंडे लगाए और रंगोली बनाई गई हैं। 

 

Share On

अन्य खबरें भी पढ़ें

Comment Form is loading comments...

खबरें आपके काम की

 


 



   Photo Gallery   (Show All)

शहर के कार्यक्रम एवं शिक्षा से जुड़ीं ख़बरें