Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्‍यूज

गुवाहाटी।

 

असम के कारबी आंग्लांग जिले में बच्चा चोर होने के संदेह में भीड़ ने दो लोगों की हत्या कर दी। साउंड इंजीनियर नीलोत्पल दास और एक व्यापारी अभिजीत नाथ शुक्रवार की रात लगभग आठ बजे पंजारी कछारी गांव में देखे गए थे। कारबी आंग्लांग के पुलिस अधीक्षक वी. शिवा प्रसाद गंजाला ने शनिवार को संवाददाताओं को बताया कि वे दोनों कांग्थीलांगसो स्थित एक झरना देखने जा रहे थे, लेकिन उन्होंने न तो किसी को इसकी सूचना दी थी और न ही किसी स्थानीय गाइड को साथ लिया था।

पुलिस ने बताया कि बच्चा चोर होने के संदेह में गांव वालों ने उनकी काले रंग की स्कार्पियो कार को घेर लिया और दोनों को बाहर निकाल कर पीटने लगे। इससे उनकी मौत हो गई। सोशल मीडिया पर इस पिटाई का वीडियो भी वायरल हो गया है। इसमें नीलोत्पल दास हमलावरों से गिड़गिड़ाते हुए कहता नजर आ रहा है कि वह भी असमिया है। उसकी पिटाई व हत्या नहीं की जाए। वह अपनी मां व पिता का नाम भी बता कर खुद को छोड़ने की गुहार लगाता नजर आ रहा है।

अब तक पांच लोग गिरफ्तार

पुलिस ने इस मामले में अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। बीते कुछ दिनों से सोशल मीडिया और व्हाट्सएप पर इलाके में बच्चा चोरों के सक्रिय होने की अफवाहें फैल रही थीं। घटना की सूचना पाकर राजधानी गुवाहाटी से कारबी आंग्लांग पहुंचे अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक मुकेश अग्रवाल ने कहा कि एक बार किसी अफवाह के जोर पकड़ने पर उसे ठंडा होने में समय लगता है।

उन्होंने बताया कि बीते कुछ दिनों के दौरान राज्य के शोणितपुर, नगांव और पश्चिमी कारबी आंग्लांग में इन अफवाहों की वजह से कई लोगों की पिटाई हो चुकी है। ध्यान रहे कि जुलाई, 2016 में निचले असम के चिरांग, दरंग, बक्सा और शोणितपुर जिलों में बच्चा चोर होने के संदेह में हिंसा की घटनाओं में चार लोगों की मौत हो गई थी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement