Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

अगर आपके पास भी 200 या फिर 2000 रुपए का कटा-फटा नोट है और उसे बदलवाने के लिए एक बैंक से दूसरे बैंक के चक्कर काट रहे हैं तो फिर आप अपना समय बर्बाद कर रहे हैं। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआइ) का एक नियम है, जिसकी वजह से बैंक ऐसे नोटों को बदलने से बच रहे हैं।

आरबीआइ का नियम

रिजर्व बैंक एक्ट के नियम 28 के मुताबिक केवल 5, 10, 50, 100, 500 और 1000 के पुराने और कटे-फटे नोटों को ही बदला जा सकता है। इस नियम में 200 और 2000 रुपए के नोट का कहीं भी जिक्र नहीं है।

 

नोटबंदी के बाद जारी हुए थे नए नोट

आरबीआइ ने पहले ही कहा था नए जारी किए गए नोटों पर किसी तरह का लिखने या फिर कटने-पिटने पर वापस नहीं होगें। नोटबंदी के बाद आरबीआइ ने 2000 का नोट जारी किया था। वहीं अगस्त 2017 में बैंक ने 200 रुपए का नोट निकाला था। अभी मार्केट में 2000 के करीब 6.70 लाख रुपए के नोट प्रचलित हैं और आरबीआइ ने इनकी प्रिंटिंग को रोक दिया है।

करेंसी नोटों की नई सीरिज पर पड़ेगा असर

आरबीआइ ने 10 और 50 रुपए के करेंसी नोटों के डिजाइन में भी बदलाव किया है। इससे अगर कोई व्यक्ति इन नोटों के कट-फट जाने या फिर लिखने से खराब हो जाने के बाद बैंकों में बदलने के लिए जाता है, तो फिर फिलहाल इनको नहीं बदला जाएगा। आरबीआइ एक्ट में बदलाव के लिए केंद्र सरकार को भी लिख चुका है, लेकिन अभी तक इस पर विचार नहीं किया गया है।

 

एटीएम से निकल रहे हैं खराब नोट

देश भर में कई ऐसे वाक्ये हो चुके हैं,  जहां पर एटीएम से ही नए 500, 200 और 2000 रुपए के खराब नोट निकल रहे हैं। इन नोटों को भी बैंक बदल नहीं रहे हैं, जिससे आम जनता को फिलहाल परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं। हालांकि जिन एटीएम पर बैंकों ने गार्ड की तैनाती कर रखी है, वहां पर इस बारे में लोग लिखित तौर पर शिकायत दर्ज करा देते हैं, जिसके बाद उनके नोट को बैंक वापस कर देता है।  

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement