Golmal Starcast Will Be in Cameo in Ranveer Singh Simba

दि राइजिंग न्यूज़

पटना।

 

आरजेडी प्रमुख लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने सावन के महीने की शुरुआत शिव की वेश-भूषा धारण कर के की है। वैसे तो वह समय समय पर कभी कृष्ण तो कभी ग्वाला बनते रहे हैं लेकिन अब उनका यह नया रूप सामने आया है। दरअसल, 30 जुलाई को सावन की पहली सोमवारी थी। इस दौरान वह पटना स्थित शिव मंदिर में शिव की वेश-भूषा वाला कपड़ा पहन पूजा करते नजर आए। इसके बाद वह झारखंड स्थित ज्योर्तिलिंग बाबा बैद्यनाथ धाम के लिए अपनी टोली के साथ निकले।

 

सावन के महीने में बड़ी संख्या में श्रद्धालू भगवान शिव के भक्त देवघर जाते हैं और भगवान शिव का दर्शन करते हैं और जल चढ़ाते हैं। तेज प्रताप भी भगवान शिव के भक्त हैं और वह समय समय पर अपनी भक्ति का परिचय देते भी रहे हैं। कल उन्होंने न केवल पटना के शिव मंदिर में भगवान की पूजा अर्चना की बल्कि उन्होंने शेर की छाल वाला कपड़ा भी पहना। तेज प्रताप का वीडियो भी सामने आया है जिसमें वह डमरू बजा रहे हैं। जब वह अपनी टोली के साथ देवघर के लिए निकले तो उन्होंने हाथ में भगवान शिव का शस्त्र त्रिशूल भी पकड़ रखा था।

वैसे यह पहली बार नहीं है जब तेज प्रताप ने अपना यह रूप धरा हो इससे पहले महाशिवरात्रि के मौके पर भी उन्होंने भगवान शिव का रूप धरा था जो सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना था। यही नहीं इसी साल उन्होंने नए साल के मौके पर कन्हैया का रूप धारण कर गायों के बीच बांसुरी बजाई तो खुद पीएम मोदी को कहना पड़ गया था कि आप तो कृष्ण-कन्हैया हो गए हैं लेकिन तेज प्रताप अभी रुके नहीं हैं।

 

कभी कृष्ण-कन्हैया तो कभी शिव का रूप धरने वाले तेज बिहार की राजनीति ही नहीं परिवार में भी तूफान ला चुके हैं। तेजप्रताप अब राजनीति के पक्के रंग में भी दिखाई देते हैं। आरजेडी के स्थापना दिवस और लालू यादव के जन्मदिन के मौके पर जिस तरह से उन्होंने राजनीति छोड़ने का ऐलान किया था उस समय उनके परिवार में भूचाल आ गया था। तेज प्रताप समय-समय पर रूप धर लेते हैं ऐसा लग रहा है कि वो अपनी अतीत की छवि से बाहर निकलने की भरपूर कोशिश कर रहे हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement