Pregnant Actress Neha Dhupia Shares Her Opinion on Pregnancy

दि राइजिंग न्यूज़

जयपुर।

 

राजस्थान शिक्षा विभाग ने स्कूलों के लिए अतिरिक्त पाठयक्रम गतिविधियों की एक सूची जारी की है। इसके अनुसार महीने के हर तीसरे शनिवार को छात्र स्कूल परिसर में संतों के प्रवचन सुना करेंगे। ऐसा इसलिए किया जाएगा ताकि बच्चे पढ़ाई के साथ-साथ संस्कार की सीख भी मिले। स्कूलों में बाल सभा का आयोजन किया जाएगा।

बाल सभाओं का कलेंडर जारी

वैसे तो पहले भी स्कूलों के अंदर बाल सभाओं का आयोजन किया जाता था लेकिन वह महज खानापूर्ति हुआ करती थी। मगर अब इसके लिए बकायदा कलेंडर जारी कर दिया गया है। बाल सभाओं में बच्चों को बालसरंक्षण संबंधित मुद्दों पर बाल चलचित्र, चित्रकला प्रतियोगिता आदि के जरिए बाल अधिकार और बाल संरक्षण के संबंध में जागरुकता पैदा करने की कोशिश की जाएगी। इसके साथ ही स्कूलों को बाल सभाओं और उत्सवों का रिकॉर्ड भी रखना होगा।

 

शिविरा पंचांग भी जारी

विभाग ने हाल ही में शिविरा पंचांग जारी किया है। इस पंचांग के तहत हर तीसरे शनिवार को स्कूलों में राष्ट्रीय महत्व के समसामयिक समाचारों की समीक्षा होगी और किसी महापुरुष या स्थानीय संत के प्रवचन सुनाए जाएंगे। महीने के पहले शनिवार को बच्चों को किसी प्रेरक संत के बारे में जानकारी दी जाएगी। बच्चों के अंदर संस्कार भरने के लिए शिक्षा विभाग स्कूलों में दादी और नानी को बुलाएगा जो बच्चों को प्रेरणादायक कहानियां सुनाएंगी।

साहित्य और महाकाव्यों पर भी होगा कार्यक्रम

चौथे शनिवार को साहित्य और महाकाव्यों पर प्रश्न और उत्तर का कार्यक्रम रखा जाएगा। महीने में यदि पांचवा शनिवार आता है तो स्कूल में नाटक का मंचन किया जाएगा और बच्चे राष्ट्रगीत का गायन करेंगे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement