Crowd Rucuks At Sapna Chaudhary Program in Begusaray of Bihar

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

ब्रिटेन में पंजाब नेशनल बैंक का दावा है कि कुछ लोगों ने बैंक को गुमराह करते हुए करोड़ों रुपये का कर्ज लिया है। अब इन लोगों की बैंक पर कुल देनदारी 37 मिलियन डॉलर यानी 271 करोड़ रुपये हो गई है। इस मामले में बैंक की सहायक कंपनी ने पांच भारतीयों, एक अमेरिकी और तीन कंपनियों पर मामला दर्ज करवाया है। बता दें कि पंजाब इंटरनेशनल लिमिटेड की यूके में सात शाखाएं हैं। इसकी पैरेंट कंपनी पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) है। यह निजी व्यक्तियों और कंपनियों पर केस दायर कर रही है क्योंकि इन्होंने कर्ज लेने के लिए झूठे और गलत दस्तावेज पेश किए हैं।

अदालत में मामला दर्ज

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बैंक ने यह दावा अदालत में मामला दर्ज करते हुए किया है। अपने दावे में बैंक का कहना है कि यह कर्ज उन्नत श्रेणियों वाले थे जिसे दक्षिण कैरोलिना में एक तेल रिफाइनिंग यूनिट लगाने और पवन ऊर्जा परियोजना विकसित करने और उसे बेचने के लिए दिया गया था। बैंक का दावा है कि कर्ज के लिए झूठे और अतिरंजित अनुमान लगाए गए और बैलेंस शीट को बढ़ा-चढ़ाकर पेश किया गया। इसके अलावा परियोजना की स्थिति के बारे में झूठ बताया गया।

 

बैंक ने दावा करते हुए बताया कि निदेशकों और गारंटीदाताओं द्वारा दावेदारों के पैसे का गबन किया गया। यह कर्ज उन योजनाओं के लिए लिया गया जिसमें शुरू से ही धोखाधड़ी की गई। पीएनबी का कहना है कि उसने 2011-2014 के बीच अमेरिका में पंजीकृत चार कंपनियों को कई डॉलरों में कर्ज दिया। यह सभी कंपनी नवीकरणीय ऊर्जा क्षेत्र में काम कर रही हैं। जिनके नाम साउथ ईस्टर्न पेट्रोलियम एलएलसी (एसईपीएल), पेस्को बीम यूएसए, त्रिशे विंड और त्रिशे रिसोर्सिज हैं।

एसईपीएल पर 17 मिलियन डॉलर की देनदारी है। इसमें से 10 मिलियन डॉलर पीएनबी के तो 7 मिलियन बैंक ऑफ बड़ौदा के हैं। बैंक का कहना है कि एसईपीएल के पास फिलहाल पैसों की कमी हो सकती है क्योंकि वह अपना व्यापार समेटने में लगी हुई है। पेस्को बीम पर 13 मिलियन डॉलर की देनदारी है। इसके प्रबंध संचालक ए. सुब्रमण्यम स्वामी और उनके भाई अनंतराम शंकर पर मामला दर्ज किया गया है। त्रिशे विंड पर 10 मिलियन की और त्रिशे रिसोर्सिज पर 3 मिलियन डॉलर की देनदारी है। त्रिशे रिसोर्सिज के मालिक वत्सल रंगनाथन, रामखुमर नरसिम्हन और रवि श्रीनिवासन पर मामला दर्ज किया गया है। यह सभी चेन्नई में रहते हैं। इससे पहले भारत में हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी और नीरव मोदी बैंक को करोड़ों रुपये का चूना लगा चुका हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement